अच्छी खबर: बिहार में एलपीजी से बनेगा बच्चों का मिड डे मील

-एमपी व तमिलनाडु की तर्ज पर बिहार में मिलेगा मिड डे मील, इन राज्यों का दौरा करेगी एमडीएम निदेशालय की टीम
पटना
.
तमिलनाडु और मध्य प्रदेश की तर्ज पर भी बिहार के स्कूली बच्चों को मिड डे मील योजना का लाभ दिया जायेगा. इसके लिए राज्य सरकार के मध्याह्न भोजन निदेशालय की टीम तमिलनाडु और मध्य प्रदेश समेत वैसे राज्यों जहां मध्याह्न भोजन योजना का बेहतर संचालन करती है, वहां जायेगी और कैसे हर बच्चों तक मध्याह्न भोजन योजना का लाभ मिलता है उसका अध्ययन करेंगे. इसके लिए शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव आरके महाजन ने मध्याह्न भोजन निदेशालय को टीम गठित कर विभिन्न राज्यों में भेजने का निर्देश दिया है. प्रदेश में कुछ जिलों के शहरी इलाके में सेट्रेलाइज किचेन के जरिये मिड डे मील दिया जा रहा है, लेकिन अधिकांश स्कूलों में ही मिड डे मील स्कूलों में ही बन रहा है. इसके लिए संबंधित स्कूलों को चावल दे दिया जाता है और दाल-हरी सब्जी व मसाला के लिए प्रति छात्र राशि दी जाती है. क्लास एक से पांच बच्चों के लिए प्रति बच्चा 4.13 रुपये और क्लास 6-8 के 6.18 रुपये प्रति बच्चे दिया जाता है. राज्य सरकार सभी स्कूलों में एलपीजी गैस का कनेक्शन उपलब्ध करा रही है, जिससे धुआं रहित रसोई में बच्चों का भोजन बन सकेगा. वहीं, सप्ताह में अंडा और फल देने की भी व्यवस्था की जा रही है.

About Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*