अनाथ जानवरों के लिए मॉडल तैयार करेगी बिहार सरकार

बिहार सरकार राजधानी पटना की सड़कों पर भटकने वाले अनाथ जानवरों के लिए ऐसा मॉडल तैयार कर रही है, जो राज्य के लिए आदर्श होगा।  मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मुख्यमंत्री सचिवालय स्थित संवाद भवन में पटना जिले में चल रहे विकास कार्यों की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता की। समीक्षा बैठक में पटना जिले में सात निश्चय एवं अन्य विकासात्मक कार्यों की अद्यतन स्थिति एवं उनमें आ रही कठिनाइयों को दूर करने पर विस्तृत रूप से चर्चा की गई। 


बैठक में मुख्यमंत्री ने राजधानी की सड़कों पर भटकने वाले जानवरों के बारे में अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि  इस संबंध में रेग्युलर सिस्टम डेवलप कीजिए, जो जानवर अनाथ रुप में छोड़ दिए गए हैं उनका पालन भी कर सकते हैं। गौमूत्र और गोबर का काफी उपयोगी है। एग्रीकल्चर और एनिमल हसबेंड्री के साथ मिलकर एक ऐसा मॉडल पटना शहर के लिए तैयार कीजिए, जो राज्य के लिए आदर्श बने। बैठक के दौरान पटना जिले में सात निश्चय योजना के तहत चल रहे युवाओं के लिये कार्यक्रम स्टुडेंट क्रेडिट कार्ड, स्वयं सहायता भत्ता पाने वाले युवाओं में रोजगार की स्थिति, कौशल विकास कार्यक्रम, वाई-फाई की स्थिति पर चर्चा की गयी।

विद्युत विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने जिले के शेष बचे टोलों में 30 अप्रैल तक बिजली कनेक्शन पहुंचाने के बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि बिजली के जर्जर तार, बांस-बल्ले पर लगे तारों को भी दो वर्ष के अंदर दुरुस्त कर लिया जाएगा। समीक्षा के क्रम में पटना जिला में चल रहे विभिन्न विकासात्मक योजनाओं के बारे में संबंधित विभाग के प्रधान सचिव एवं सचिव और पटना जिला के जिलाधिकारी ने अद्यतन स्थिति से मुख्यमंत्री को अवगत कराया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*