अपोजिशन की बैठक: ‘क्षेत्रीय दलों के तालमेल से बदल जायेगी दिल्ली की राजनीति’

विपक्षी दलों की साझा बैठक में तेजस्वी यादव ने काफी सधी हुई और बिंदुवार बातें रखते हुए कहा है कि सबसे बड़ी पार्टी होने के कारण कांग्रेस की भूमिका महत्वपूर्ण है साथ ही राज्यों में क्षेत्रीय दलों से तालमेल ठीक से हो तो केंद्र की राजनीति बदल जायेगी.

विपक्षी दलों की साझा बैठक में तेजस्वी यादव ने काफी सधी हुई और बिंदुवार बातें रखते हुए कहा है कि सबसे बड़ी पार्टी होने के कारण कांग्रेस की भूमिका महत्वपूर्ण है साथ ही राज्यों में क्षेत्रीय दलों से तालमेल ठीक से हो तो केंद्र की राजनीति बदल जायेगी.

 

तेजस्वी ने इस अवसर पर दिल्ली में आहुत विपक्षी दलों की साझा बैठक में सबसे पहले राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री लालू प्रसाद यादव की ओर से सभी दलों के नेताओं को शुभकामनाएं दीं। फिर राजद की ओर से बिंदुवार अपनी बातें रखीं।

उन्होंने आठ महत्वपूर्ण मुद्दों को उठाया.

1. तानाशाही मिजाज़ ने देश में अघोषित इमरजेंसी लगा दी है। संवैधानिक संस्थाओं को मृतप्राय किया जा रहा है।

2. केंद्रीय एजेंसियों का लगातार दुरुपयोग करते हुए विपक्ष के नेताओं को प्रताड़ित किया जा रहा है।हमारे संदर्भ में cbi के हवाले से जो खबर आई है उससे हालात और भयावह लगते हैं.

3. अनुसूचित जाति, जनजाति, पिछड़े वर्ग और अल्पसंख्यकों को लगातार मुख्यधारा से बहिष्कृत करने की कार्रवाई हो रही है।

4. किसानों, नौजवानों और लहूलुहान अर्थव्यवस्था के मद्देनजर हम सभी दलों को मुद्दा आधारित संघर्ष को लोगो तक फौरी तौर पर ले जाना होगा।

5. सीटों का तालमेल शीघ्र किया जाए और आकलन एक एक सीट के आधार पर हो।

6. कांग्रेस एक बड़ी पार्टी है अतः उनकी भूमिका भी महती है लेकिन उन्हें हर क्षेत्र/राज्य के मजबूत दल को महत्वपूर्ण निर्णय मसलन मुद्दे, और अन्य दलों के सम्मिलित करने आदि में ड्राइविंग सीट देना चाहिए।

7. हमें यह हमेशा सोचना चाहिए कि राज्य की राजनीति और वहां की सफलता राष्ट्रीय राजनीति के तेवर बदलेगी

8. सबसे महत्वपूर्ण है कि अगर हम एक साथ नहीं आये तो संविधान ख़त्म कर दिया जाएगा। ज़ोर pre-poll अलायन्स पर हो और इसके अलावा post-poll alliance की संभावना रखनी चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*