अररिया में आपसी विवाद में तेजाब से हमला, छह लोग झुलसे

अररिया में रानीगंज क्षेत्र के खरसाही पंचायत के जगता गांव में आपसी विवाद में तेजाब फेंकने से छह लोग झुलस गये। घायलों को रेफरल अस्पताल से पूर्णिया रेफर कर दिया गया। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है। फौरी तौर पर घटना के पीछे प्रेम-प्रसंग का विवाद माना जा रहा है।

सनाउल हक़ चंचल, नौकरशाही

घायलों में प्रह्लाद कुमार (25), फेकन चौधरी (40), मो अशफाक आलम (45), विन्देश्वरी चौधरी (60), बसंती देवी (30), शाहनवाज आलम (17) शामिल हैं। बताया गया है कि दो अलग-अलग जाति के लड़का और लड़की के बीच कुछ महीनों से प्रेम पसंग चल रहा था और उन दोनों ने गुपचुप तरीके से प्रेम विवाह भी कर लिया था। इस अंतरजातीय विवाह से दोनों पक्षों में पहले से ही तनाव चल रहा था।

रविवार को जगता निवासी लड़की पक्ष के बगीचे में लड़का पक्ष से एक बच्ची आम तोड़ने आयी थी। इस बात को लेकर आम बगीचे में दोनों पक्षों के परिजनों के बीच कहा सूनी हुई। बात बढ़ते-बढ़ते मारपीट तक पहुंच गई। मारपीट के दौरान ही अपनी ज्वेलरी की दुकान से श्याम ठाकुर एक पक्ष के लोगों पर तेजाब फेंक दिया। इस घटना में छह से अधिक लोग बुरी तरह से झुलस गये। तेजाब फेंके जाने के बाद ग्रामीणों ने दुकानदार श्याम ठाकुर को पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया।

यहां बता दें कि लड़की के पिता ने 14 मार्च को रानीगंज थाना में अपनी पुत्री के अपहरण का मामला दर्ज कराया था। दर्ज एफआईआर में पिता ने लड़के व उनके परिजनों पर बहला फुसलाकर अपहरण करने की बात कही थी। इसके कुछ दिन बाद ही लड़की ने कोर्ट में दिए अपने बयान में प्रेमी के साथ रहने की बात कही। इसपर कोर्ट ने लड़के पक्ष को लड़की सौंप दिया गया था।

लेकिन दोनों परिवारों के बीच इस विवाह को लेकर तनाव चल रहा था। इधर घटना को लेकर रानीगंज थानेदार किंग कुंदन ने बताया कि मामला गंभीर है। उन्होंने कहा कि मामले की हर बिंदुओं पर जांच चल रही है

About Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*