अशोक चौधरी गुट का जदयू में हुआ विलय

बिहार विधान परिषद में कांग्रेस के चार बागी सदस्‍य आज जदयू में शामिल हो गये। कल अशोक चौधरी के नेतृत्‍व में रामचंद्र भारती, दिलीप चौधरी और तनवीर अख्‍तर ने उप सभापति हारुन रसीद से मुलाकात की थी और परिषद में अलग गुट की मान्‍यता देने की मांग की थी। उनकी मांग पर कार्रवाई करते हुए उपसभापति ने चारों विधान पार्षदों को अलग गुट की मान्‍यता दे दी। बाद में इस गुट ने अपना विलय जदयू में करने का आग्रह किया और इसके बाद विलय की प्रक्रिया पूरी कर ली गयी है।

 वीरेंद्र यादव 

विधान परिषद के उप सभापति हारुन रसीद ने  को बताया कि कांग्रेस के चारों सदस्‍यों की मांग के आलोक में उन्‍हें अलग गुट की मान्‍तया दी और उस गुट का‍ विलय जदयू में कर दिया गया। इस संबंध में चिट्ठी भी जारी कर दी गयी है। उन्‍होंने कहा कि विधान परिषद में कांग्रेस के छह सदस्‍य थे और चार सदस्‍य पार्टी से अलग होना चाहते थे। इसमें कोई संवैधानिक बाधा नहीं थी। उल्‍लेखनीय है कि दल-बदल के लिए दो-तिहाई सदस्‍यों का होना आवश्‍यक है।

 

आज चारों सदस्‍यों ने जदयू की औपचारिक सदस्‍यता ग्रहण की। मुख्‍यमंत्री के आवास पर अशोक चौधरी की अगुआई में चारों सदस्‍य पहुंचे और पार्टी में शामिल होने की औपचारिकता पूरी की। इस मौके पर सीएम नीतीश कुमार के साथ पार्टी के प्रदेश अध्‍यक्ष वशिष्‍ठ नारायण सिंह और सांसद आरसीपी सिंह भी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*