आईएएस अकादमी की सरक्षा पर खतरा

देश के सर्वोच्च प्रशिक्षण संस्थान लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासनिक अकादमी, मसूरी की सुरक्षा में सेंध का मामला सामने आया है।

अखबार नई दुनिया की खबर में बताया गया है कि
एक युवती अकादमी की सुरक्षा व्यवस्था को धता बताकर करीब छह महीने तक अकादमी परिसर में प्रशिक्षु आईएएस के तौर पर रही, लेकिन किसी को इसकी भनक नहीं लगी। युवती अत्यंत महत्वपूर्ण स्थानों पर खुलेआम घूमती रही और रहस्यमय अंदाज में गायब हो गई। इसके बाद अकादमी प्रशासन को इसका पता चला।

अब अकादमी की तरफ से पुलिस में तहरीर देते हुए कार्रवाई की मांग की गई है। वहीं यह मामला अकादमी की रेकी का भी माना जा रहा है। पुलिस व खुफिया एजेंसियां युवती की तलाश में जुट गई हैं। मामला मंगलवार को उस वक्त प्रकाश में आया जब अकादमी के सुरक्षा अधिकारी सत्यवीर सिंह ने मसूरी कोतवाली में तहरीर दी।

बताया गया कि अकादमी में छह माह से रूबी चौधरी पुत्री सत्यवीर सिंह निवासी ग्राम कुटबा जिला मुजफ्फरनगर (उत्तर प्रदेश) बतौर प्रशिक्षु आईएएस रह रही थी। आरोप है कि उसने फर्जी दस्तावेज बनाकर स्वयं को प्रशिक्षु आईएएस अधिकारी बताते हुए सितंबर-2014 में यहां प्रवेश किया। जिसका पता अकादमी सुरक्षा कर्मियों को 27 मार्च, 2015 को तब चला जब वह गायब हो गई।

तहरीर में बताया गया है कि संदिग्ध युवती रूबी अकादमी के देबी सिंह नामक सुरक्षा गार्ड के क्वार्टर में रह रही थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*