आईएएस, आईपीएस बनने के अब 4 के बजाये 6 मौके

देश की प्रतिष्ठित प्रतियोगिता परीक्षा में दो अतिरिक्त अवसर दिये जाने के फैसला का लाभ 24 लाख प्रतिभागियों को मिलेगा. कार्मिक मंत्रालय के आदेश के अनुसार सामान्य श्रेणी के छात्र 4 के बजाये इस परीक्षा में 6 बार किस्मत आजमा सकते हैं.ias

परीक्षा के बदले पैटर्न से प्रभावित छात्रों ने इस प्रकार की मांग की थ. कार्मिक मंत्रालय के इस फैसले के अनुसार सभी श्रेणी के परीक्षार्थियों को इस साल से दो और अवसर मिलेंगे. कार्मिक मंत्रालय का यह फैसला इसी साल से लागू होगा.

इस संबंध में कार्मिक मंत्रालय का यह भी कहना है कि अगर आवश्यकता हुई तो उम्र सीमा में भी ढ़ील दी जायेगी.

लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित इस परीक्षा के माध्यम से आईएएस, आईएफएस, आईपीएस, आईआरएस समेत अनेक केंद्रीय सेवाओं के लिए चयन किया जाता है. पिछले दिनों इसके परीक्षा पैर्टन में बदालव किया गया था. जिसके कारण पहले से तैयारी कर रहे अभियर्थियों को नुकसान उठाना पड़ रहा था क्योंकि ऐसे लाखों छात्र थे जिन्होंने 2-3 बार परीक्षा में पुरान पैटर्न के आधार पर तैयारी करके परीक्षा में शामिल हो रहे खे.

इस वर्ष इस प्रतियोगिता की प्ररांभिक परीक्षा 24 अगस्त को हनी है.

मौजूदा नियों के अनुसार सामान्य श्रेणी के उम्मीदवारों के लिए इस परीक्षा में बैठने के लिए अधिकतम चार मौके मिलते हैं जबकि पिछड़ा वर्ग के लिए 7 मौके मिलते हैं. जबकि अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति वर्गों के लोगों के लिए प्रयास के मौकों की कोई सीमा नहीं है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*