आखिर निलंबित होना ही पड़ा पुलिस वालों को

मीडिया की सक्रियता ने फिर अपना असर दिखाया है नतीजे में महिला को थप्पड़ मारने वाले दिल्ली पुलिस के अधिकारी को निलंबित कर दिया गया है.image

दिल्ली में पांच वर्षीय लड़की के रेप का विरोध कर रही महिला को एसीपी बीएस अहलावत ने दीनदयाल अस्पताल परिसर में विरोध जता रही महिला को चार थप्पड़ जड़ दिया जिसका विडियो फुटेज चैनलों पर दिखाया गया. इसके बाद पुलिस कमिसनर नीरज कुमार ने अहलावत को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है.

रेप की शिकार बच्ची के केस की जांच करने वाले एसएचओ धर्मपाल सिंह और सब इंस्पेक्टर महावीर सिंह को भी निलंबित कर दिया गया है.

इस मामले ने तब तूल पकड़ा जब यह खबर आयी कि पुलिस वाले पीड़िता के परिवार को दो हजार रुपये लेकर मामले को रफा-दफा करने के लिए दबाव बना रहे थे. एक पुलिस अधिकारी का कहना है कि इस मामले की जांच विजिलैंस को सौंप दी गयी है.

इस मामले में परिवारो वालों ने रहस्योद्घाटन किया था कि पुलिस वाले इस मामले को समाप्त करने के लिए 2000 रुपये ले लेने का दबाव बना रहे थे. इतना ही नहीं पुलिस वालों ने उन्हें गालियां भी दीं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*