आपातकाल के खिलाफ 26 जून को प्रदेश भर में सेमिनार करेगी भाजपा

भारतीय जनता पार्टी ने आपातकाल में कांग्रेस की भूमिका की पोल खोलने के लिए 26 जून को पूरे बिहार में सेमिनार आयोजित करने की घोषणा करते हुये आज कहा कि 25 जून 1975 की आधी रात को देश पर आपातकाल  थोपने वाली कांग्रेस आज केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर अलोकतांत्रिक होने का आरोप लगा रही है।

बिहार विधानसभा में भाजपा के मुख्य सचेतक अरुण कुमार सिन्हा ने संवाददाताओं से कहा कि देश में लोकतंत्र का गला घोंटने के लिए 25 जून 1975 की आधी रात को आपातकाल लागू करने वाली कांग्रेस की पोल खोलने के लिए 26 जून को पूरे राज्य में सेमिनार का आयोजन किया जाएगा। उन्होंने बताया कि पटना के विद्यापति भवन में ‘आपातकाल का भारत’ विषय पर होने वाले सेमिनार के माध्यम से लोगों को जागरूक किया जाएगा कि कैसे कांग्रेस सरकार में देश में 22 महीने तक आपातकाल लागू रहा।

श्री सिन्हा ने कहा कि महान समाजवादी नेता लोकनायक जयप्रकाश नारायण ने आपातकाल को इतिहास का सबसे काला समय’ बताया है। अब वही कांग्रेस केंद्र की मौजूदा नरेंद्र मोदी सरकार पर अघोषित आपातकाल थाेपने का आरोप लगा रही है।  उन्होंने कहा कि कांग्रेस का दोहरा मापदंड देश की जनता को स्वीकार नहीं है। उन्होंने कहा कि आपातकाल के दौरान डेढ़ लाख से अधिक लोगों को जेल में बंद कर दिया गया था। इस दौरान जेल में पुलिस ने लोगों का कठोर यातनाएं दी, जो देश में अंग्रेज सरकार की यातना की याद दिलाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*