उपेन्द्र कुशवाहा ने सरकारी स्कूलों को बताया खिचड़ी व भवन निर्माण का अड्डा

राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह पूर्व केंद्रीय मंत्री उपेन्द्र कुशवाहा ने आज फिर से बिहार की बदहाल शिक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़े किये। उन्होंने कहा कि सरकारी विद्यालय आज खिचड़ी व भवन निर्माण का अड्डा बन कर रह गया है।

नौकरशाही डेस्क

बेगूसराय में खोदावंदपुर प्रखंड के दौलतपुर पेट्रोल पंप परिसर में शनिवार की शाम रालोसपा द्वारा आयोजित शिक्षा सुधार सभा को संबोधित करते हुए कुशवाहा ने कहा कि प्रदेश में शिक्षा व्यवस्था पूरी तरह बर्बाद हो गयी है। जब तक सरकारी शिक्षा व्यवस्था ठीक नहीं होगा, तब तक प्रदेश के गरीब बच्चों को बेहतर शिक्षा नहीं मिल सकता है। इसके लिए हमने शिक्षा सुधार जन जन का अधिकार रथ यात्रा के माध्यम से पूरे प्रदेश में घूम कर लोगों को जागरूक कर समर्थन जुटा रहे हैं।

ये भी पढ़ें : मोदी-शाह गुरु चेला की नींद उड़ाने वाला है SP-BSP Alliance

उन्होंने कहा कि आगामी 2 फरवरी को पटना में आक्रोश मार्च के माध्यम से माननीय महामहिम राज्यपाल को एक करोड़ लोगों का हस्ताक्षिरत सहित 25 सूत्री मांग को समर्पित करेंगे। मालूम हो कि केंद्र की मोदी सरकार में मानव संसाधन मंत्रालय में राज्य मंत्री रहते हुए भी कुशवाहा ने बिहार में शिक्षा व्यवस्था में सुधार के लिए एक बड़ी सभा कर चुके हैं, जिसमें उन्होंने बिहार की बदहाल शिक्षा व्यवस्था के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को दोषी ठहराया था। उसके बाद हाल के दिनों में कुशवाहा के आह्वान पर रालोसपा द्वारा राज्यभर में शिक्षा सुधार जन जन का अधिकार हस्ताक्षर अभियान चलाया जा रहा है।

वहीं, रालोसपा प्रमुख ने केंद्र व बिहार सरकार पर हमला बोलते हुए उसे हर मोर्चे पर विफल बताया तथा आगामी लोकसभा व विधानसभा चुनाव में बिहार एवं केंद्र से मोदी व नीतीश सरकार को उखाड़ कर फेंकने तथा महागठबंधन को सत्ता सौंपने का आह्वान किया।

About Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*