एनआईए की छापेमारी में नकदी समेत आपत्तिजनक दस्‍तावेज बरामद

जम्मू कश्मीर में आतंकवादी गतिविधियों के लिए सीमा पार से होने वाली फंडिंग की जांच में जुटी राष्ट्रीय जांच एजेन्सी (एनआईए) ने आज कश्मीर में अलगाववादियों के ठिकानों तथा दिल्ली और हरियाणा में हवाला कारोबारियों के यहां छापेमारी की, जिसमें एक करोड रूपये से अधिक की नगदी और संपत्ति के दस्तावेज जब्त किये गये।
एनआईए के प्रवक्ता के अनुसार कश्मीर में 14 तथा दिल्ली और हरियाणा में 8 ठिकानों पर छापेमारी की गयी। इन छापों में एक करोड 15 लाख रूपये की नगदी, संपत्ति से जुडे दस्तावेज , प्रतिबंधित आतंकवादी संगठन लश्कर ए तैयबा और हिज्बुल मुजाहिदीन के लैडरहैड, पेन ड्राइव, लैपटॉप और अन्य आपत्तिजनक दस्तावेज बरामद किये गये।
उन्होंने कहा कि छापों के दौरान की गयी पूछताछ में कई अन्य स्थानों का भी पता चला है और इनकी भी जांच की जायेगी।
इन सभी स्थानों पर एनआईए ने सुबह सवेरे ही छापेमारी की और वहां मौजूद लोगों से विस्तार से पूछताछ की। छापेमारी की कार्रवाई कश्मीर के तीन अलगाववादी नेताओं से इस सप्ताह यहां एनआईए मुख्यालय में की गयी पूछताछ के बाद की गयी है।
रिपोर्टों के अनुसार एक टेलीविजन चैनल के स्टिंग ऑपरेशन में हुर्रियत नेताओं को यह स्वीकार करते हुए दिखाया गया था कि घाटी में सुरक्षा बलों पर पथराव, तोड फोड की घटनाओं और आतंकवादी गतिविधियों के लिए उन्हें सीमा पार बैठे आतंकवादियों से फंडिंग होती है। इसके बाद एनआईए ने अलगावादी नेताओं से घाटी में पूछताछ की और अलगाववादी नेता नयीम खान, फारूख अहमद डार और गाजी जावेद बाबा को पूछताछ के लिए दिल्ली बुलाया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*