एलिट ने आयोजित किया मेडिकल-इंजीनियरिंग के बदले पैटर्न पर सेमिनार

इंजीनियरिंग और मेडिकल की तैयारी करवाने वाले पटना के प्रसिद्ध संस्थान एलिट इन्स्टिच्युट ने आई.आई.टी.(जे.ई.ई.) और पी.एम.टी.(मेडिकल) के परिवर्तन के मद्देनजर मंझौल (बेगुसराय) में सेमिनार आयोजित किया.

कार्यक्रम का उद्घाटन करते संस्थान के निदेशक व स्थानीय मेयर

कार्यक्रम का उद्घाटन करते संस्थान के निदेशक व स्थानीय मेयर

 

इस वर्ष से इंजीनियरिंग और मेडिकल प्रवेश परीक्षाओं में परिवर्तन होने से छात्रों में भ्रम और विभिन्न तरह की शंकायें उत्पन्न हुई हैं. इन्हीं सभी बातों के मद्देनजर एलिट संस्थान ने छात्रों की जागरुकता के लिये इस सेमिनार को आयोजित किया, जिसमें सैकडो छात्र-छात्राओं ने भाग लिया.

इस कार्यक्रम के उद्घाटन-कर्ता के रुप में बेगुसराय के मेयर उपेन्द्र प्रसाद सिंह ने कहा कि वर्तमान शैक्षणिक माहौल में एलिट इन्स्टिच्युट की कार्यशैली एक तरफ़ जहाँ जरुरतमंद बच्चों को पढाई करवाकर अपने सामाजिक दायित्व को पूरा करती है, वहीं दूसरी ओर आई.आई.टी. और मेडिकल में प्रत्येक वर्ष सैंकडो छात्र-छात्राओं के रिजल्ट से अपनी योग्यता और उपयोगिता को प्रमाणित करती है. उन्होंने एलिट के संस्थापक-निदेशक अमरदीप झा गौतम की प्रशंसा करते हुए कहा कि अमरदीप झा गौतम की कड़ी मेहनत और उत्कृष्ट सोच के कारण इनकी प्रसिद्धि भौतिकी के चर्चित शिक्षक और एलिट संस्थान के लोकप्रिय निदेशक के रुप में है, जिसके अन्तर्गत दर्जनों लब्धप्रतिष्ठित शिक्षक अपनी सेवायें दे रहे हैं.

सफलता के गुर

एलिट के निदेशक अमरदीप झा गौतम ने छात्रों को इंजीनियरिंग और मेडिकल प्रवेश-परीक्षाओं में परिवर्तन से उत्पन्न समस्यायें, चुनौतियाँ और समाधान पर व्यापक चर्चा करते हुए जे.ई.ई. और पी.एम.टी. के परिवर्तन से नहीं घबराने की बात कही और छात्रों को सफलता के गुर बताये. उन्होंने बेगुसराय जिले के छात्र-छात्राओं को एलिट-21 योजना के बारे में बताया, जिसके अन्तर्गत 21 मेधावी छात्रों को संस्थान के द्वारा सहायता दी जाती है, जिसका आधार बोर्ड-परीक्षा का प्राप्तांक या स्काँलरशिप-टेस्ट है.

एलिट संस्थान के द्वारा वरिष्ठ शिक्षाविद् नलिनी रंजन प्रसाद सिंह, प्रसिद्ध पत्रकार रजनीकांत पाठक, चर्चित बिहार पत्रिका के संपादक अभिजीत कुमार और प्रख्यात शिक्षक दिवाकर भारती को सरस्वती-सम्मान से नवाजा गया.

संवादहीनता से समस्या

वहीं डाँ. प्रेम कुमार और डाँ. अभिषेक को चिकित्सा-क्षेत्र में सराहनीय कार्य के लिये प्रतिभा-सम्मान से सम्मानित किया गया.इन सम्मानित लोगों ने इस सम्मान के लिये एलिट को आभार व्यक्त किया और मंझौल (बेगुसराय) में इस शैक्षणिक सेमिनार के लिये एलिट के निदेशक अमरदीप झा गौतम को धन्यवाद दिया. शिक्षाविद् डाँ. अनिल कुमार राय ने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि आज के दौर में छात्र और शिक्षक के बीच संवाद-हीनता देखने को मिलता है. पर, एलिट संस्थान आज भी अपने परंपरागत सान्स्कृतिक मूल्यों को संजोये रखने में समर्थ है, जहाँ कोई भी छात्र बेहिचक अपनी किसी भी समस्या को अपने शिक्षक के सामने रख सकते हैं और शिक्षकों के स्नेह का प्रतिफल है कि एलिट की छवि सबसे अलग है. प्रसिद्ध युवा पत्रकार प्रभाकर राय ने एलिट संस्थान के इस अभिनव प्रयोग की सराह्ना की. वयोवृद्ध स्वतंत्रता-सेनानी मेघन यादव ने अमरदीप झा गौतम के बारे में कहा कि ये बेगुसराय के लाल और बिहार के गौरव हैं.

 

इस कार्यक्रम में उपस्थित छात्र-छात्रा में बहुत ज्यादा खुशी देखी गयी.शिक्षक-वर्ग और अभिभावकों ने इस कार्यक्रम की सराहना करते हुए कहा कि यह मंझौल के लिये गर्व की बात है कि इतना अच्छा शैक्षणिक सेमिनार एलिट इन्स्टिच्युट द्वारा यहाँ आयोजित किया गया, इसके लिये सभी लोगों ने आभार व्यक्त किया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*