एससी-एसटी जातियों के विकास के लिए सरकार प्रतिबद्ध

राष्ट्रीय अनुसूचित जाति एवं जनजाति आयोग के सदस्य योगेंद्र पासवान ने आज कहा कि केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार आदिवासी और जनजातीय लोगों को उत्थान के लिए कृत संकल्पित है। 


श्री पासवान ने रोहतास जिले के कैमूर पहाड़ी स्थित रोहतासगढ़ किला परिसर में बनवासी कल्याण आश्रम द्वारा आयोजित 13वें रोहतास गढ़ किला महोत्सव समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि केंद्र ने देश की जनजातियों को मुख्यधारा जोड़ने के लिए कई महत्वपूर्ण योजनाएं शुरू की है। सरकार ने पहली बार आदिवासी विश्वविद्यालय की स्थापना के साथ-साथ शिक्षा के क्षेत्र में आदिवासी एवं जनजाति लोगों को आगे बढ़ाने के लिए कदम उठाया है ।

अनुसूचित जाति एवं जनजाति आयोग के सदस्य ने कहा कि आदिवासी और जनजातीय लोगों को पशुपालन के लिए विशेष सहायता प्रदान किया जा रहा है। जनजातीय और वनवासी लोगों का वन क्षेत्रों पर अधिकार के लिए जो आवाज उठ रही है, इसे ध्यान में रखकर भी सरकार गंभीरता से विचार कर रही है। समाज के हर वर्ग के विकास के लिए केंद्र सरकार और बिहार सरकार कई महत्वाकांक्षी योजनाएं चला रही है।
सासाराम के सांसद छेदी पासवान ने भी सभा को सम्बोधित करते कहा कि रोहतास किले को पर्यटक स्थल के रूप में विकसित करने का कार्य प्रारम्भ किया गया है। रोपवे का निर्माण भी जल्द ही शुरू होगा। साथ ही सड़क समेत अन्य विकास का कार्य भी जारी है। इस मौके पर छत्तीसगढ़, पश्चिम बंगाल, झारखंड, उत्तर प्रदेश आदि राज्यों से आए हुए उरांव समाज के लोगों ने परंपरागत नृत्य और कर्मा एवं सरहुल गीत प्रस्तुत किये। जनजातीय लोगों ने कर्मा वृक्ष की पूजा भी की। समारोह की अध्यक्षता बनवासी सेवा आश्रम के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगदेव उरांव ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*