ओबीसी कर्मचारियों की बैठक में जातिवाद के मुद्दे पर हुई चर्चा

ओबीसी कर्मचारियों की बैठक में जातिवाद के मुद्दे पर हुई चर्चा

रविवार को अखिलभारतीय ओबीसी अल्पसंख्यक कर्मचारी एसोसिएशन की बैठक में मुसलमानों मेबजातिवादी निजाम पर खुल कर चर्चा हुई।

वक्ताओं ने जातिवाद को मुस्लिम समाज की एकता में सबसे बड़ी बाधा बताया।

इस अवसर पर ‘हिन्दुस्ताम में जात-पात और मुसलमान’ के लेखक मसूद आलम फलाही ने जातिवादी निजाम पर रोशनी डालते हु कहा कि यह व्यवस्था समाज में असमानता की पोषक है।

इस अवसर पर ओबीसी कर्मचारी संघ के माह सचिव नईम अहमद मंसूरी ने मसूद फलाही की पुस्तक की सराहना करते हुए कहा कि उन्होंने कुरआन औऱ हदीस की हकीकत को दुनिया के सामने बड़े खूबसूरत तरीके से पेश किया।

कार्यक्रम में अल इंडिया मुस्लिम मोर्चा के कार्यकारी अध्यक्ष कमल अशरफ राईन ने कहा कि पिछड़े समाज को मजबूती से जातिवाद का विरोध करना चाहिए।

बैठक में अन्य लोगों के अलावा डॉक्टर फैयाज़ अहमद फैज़ी भी शामिल हुए.

इससे पहले संघठन के महासचिव मो नईम अहमद “मंसूरी “ने गुलदस्ता देकर मसिजद फलाही का इस्तेक़बाल किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*