कर्नल की कथित करतूत

नशीली दवा तस्करी मामले में मणिपुर पुलिस ने कर्नल रैंक के जनसंपर्क अधिकारी समेत छह लोगों को गिरफ्तार किया है.पुलिस ने इनके पास से 15 करोड़ रुपये की प्रतिबंधित दवा भी बरामद की है.

माना जाता है कि प्रतिबंधित दवाओं को म्यांमार भेजने मनसूबा था, जहां इनकी बेहद मांग है.

पुलिस गिरफ्तार किए गए सेना के जनसंपर्क अधिकारी अजय चौधरी, उनके सहायक आरके बबलू, इंडिगो के असिस्टेंट मैनेजर ब्रजेंद्रो सिंह के अलावा तीन स्थानीय लोगों से पूछताछ कर रही है. चौधरी सेना की 57 माउंटेन डिवीजन में पीआरओ हैं. हालांकि, चौधरी ने कहा है कि उन्हें अवैध दवा की खेप की जानकारी नहीं है. एक बड़े अफसर के रिश्तेदार ने उन्हें धोखा दिया है.

हालांकि कर्नल ने अभी तक यह स्पष्ट नहीं किया है कि किस अफसर के रिश्तेदार ने उन्हें फंसाया है. चौधरी ने मात्र यही कहा कि एक बड़े अफसर का भतीजा उनके पास आया था. मैं उसके यहां दो तीन बार जाकर मिला था.

इस बीच सैन्य प्रवक्ता कर्नल जगदीप दाहिया ने कर्नल चौधरी की गिरफ्तारी की पुष्टि की है. दिहिया ने कहा कि अगर सेना का कोई भी अधिकारी लिप्त पाया जाता है तो कठोर अनुशासनात्मक कार्रवाई होगी. मणिपुर पुलिस का कहना है कि इस मामले में एफआईआर दर्ज कर लिया गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*