कश्मीर चुनाव: तो ये हैं रोचक मामले

भारतीय जनता पार्टी ने चुनावी इतिहास में सबसे बड़ी सफलता  पा गयी लेकिन इसके बावजूद वह दूसरे नम्बर की पार्टी रही. पढ़िये और क्या रोचक फैक्टस हैं कश्मीर चुनाव नतीजों के.pdp

 

कश्मीर में कुल 87 सीटें हैं जिसमें भाजपा ने 25 जीती. ये 25 सीटें वैसी हैं जहां हिंदू आबादी बहुलता में है और यह क्षेत्र जम्मू का है. जम्मू क्षेत्र में कुल 37 सीटें हैं. इन सीटों में से 13 पर भाजपा हारी. वहीं लद्दाख और घाटी क्षेत्र में भाजपा ने खाता तक नहीं खोला. घाटी और लद्दाख में कुल 50 सीटें हैं.

घाटी में भाजपा का चेहरा और टीवी फेस बन चुकी हिना बट समेत 35में से 34 की जमानत जब्त हो गयी.

भाजपा ने कुल 34 मुस्लिम कंडिडेट्स मैदान में उतारे लेकिन उसके 33 मुस्लिम कंडिडेट्स हार गये.
सबसे गजब परिणाम किश्तवाड़ में आया जहां 60 प्रतिशत मुस्लिम आबादी है लेकिन यहां से भाजपा के नेता भाजपा के सुनील कुमार ने सज्जाद अहमद किचलू को हराया.
यह पहला अवसर है कि इस बार 12 अलगाववादी नेता भी मैदान में डटे. इन में से दो ने जीत हासिल कर ली. ये नते हैं- सज्जादलोन और बशीर अहमद डार.

 फजीहत

मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला तो एक जगह से चुनाव हारे ही, उनके 22 में से सात मंत्री भी हार गये.
सबसे ज्यादा 23% वोट मिले भाजपा को. पीडीपी को 22.7% मिले वोट.

सबसे बड़ी पार्टी के रूप में इस बार पीडीपी उभरी है. उसे 29 सीटें मिली हैं. पिछले चुनाव में सरकार बनाने वाली नेशनल कांफ्रेंस तीसरे नम्बर पर चली गयी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*