कानाफुसी: सिंधुश्री संभालेंगी सीएजी का पद!

केंद्रीय सत्ता के गलियारी में जारी कानाफुसी अगर सच साबित हुई तो सिंधुश्री खुल्लर अगली नियतंरक व महालेखा परीक्षक(सीएजी) बनायी जा सकती हैं. मौजूदा सीएजी विनोद राय आगामी 22 मई को रिटायर हो रहे हैं.

कहा जाता है कि जिस तरह टीएन शेषण ने युगों युगों से सत्ता के चंगुल में फंसे चुनाव आयोग को नयी पहचान दिलायी उसी तरह विनोद राय ने सीएजी के अधिकारों को नये ढंग से परिभाषित किया.

सिंधुश्री खुल्लर

सिंधुश्री खुल्लर

सत्ता की शीर्ष पर बैठे कई धाकड़ नेताओं को जेल की सलाखों तक पहुंचाने में सीएजी की रिपोर्ट ने अहम भूमिका निभायी थी. कमन वेल्थ गेम और कोल आवंटन घोटाले में सीएजी की मजबूत भूमिका ने देश की जनता की उम्मीदों और भरोसे के जीता है.

ऐसे में विनोद राय के रिटायर होने के बाद सिंधुश्री का सीएजी के पद नियुक्ति की संभावना की खबर काफी महत्वपूर्ण है. खुल्लर 1975 बैच की आईएएस अधिकारी हैं और हाल ही में योजना आयोग में सचिव बनायी गयी हैं. खुल्लर को कांग्रेस का भरोसेमंद नौकरशाह माना जाता है.

जरूर पढ़ें- सत्ता की चूलें हिलाने वाले विनोद राय

खुल्लर 1975 बैच की आईएएस अधिकारी है. और वह अपने करियर के दौरान जहां भी, जिस महकमे भी रही अपना छाप छोड़ा है. दिल्ली की परिवहन सचिव के बतौर उन्होंने डीजल से चलने वाली डीटीसी बसों के बेड़े को सीएनजी में परिवर्तित करने में अहम भूमिका निभाई थी. उस दौर में अदालत ने दिल्ली सरकार को आदेश दिया था कि प्रदूषण से मुक्ति के लिए तमाम बसों को सीएनजी से चलाया जाये

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*