कुशवाहा की पार्टी पर अरुण का ‘ग्रहण’

केन्द्र सरकार में शामिल लगभग चालीस माह पुरानी राष्ट्रीय लोक समता पार्टी का टूटना लगभग तय हो गया है । पार्टी के संस्थापकों में शामिल सांसद अरुण कुमार ने रालोजपा की बिहार इकाई को भंग किये जाने पर गहरी नाराजगी व्यक्त की । पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं केन्द्रीय मानव संसाधान विकास राज्य मंत्री उपेन्द्र कुशवाहा ने कल पार्टी की बिहार इकाई को भंग कर दिया था । श्री कुमार बिहार इकाई के अध्यक्ष थे। arun

 
अरुण कुमार ने कुशवाहा पर हवाला कारोबारियों से संबंध होने का आरोप लगाते हुये सरकार से इसकी जांच कराने की मांग की । श्री कुमार ने कहा कि सरकार को यह जांच करानी चाहिये कि श्री कुशवाहा कहीं राष्ट्रीय हितों के साथ खिलवाड़ तो नहीं कर रहे हैं। इस संबंध में वह प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मानव संसाधन विकास मंत्री स्मृति इरानी को पत्र भी लिखेंगे ।

 
श्री कुमार ने कहा कि श्री कुशवाहा ने राजेश यादव को पार्टी का कोषाध्यक्ष बनाया है, जबकि यही व्यक्ति शिव शंकर कुमार के नाम से श्री कुशवाहा का सहायक निजी सचिव भी बना हुआ है । उन्होंने कहा कि श्री कुशवाहा ने हवाला कारोबारी प्रदीप मिश्र और राजेश यादव के साथ विदेश यात्रा भी की है । उन्होंने इस यात्रा की जांच कराने की भी मांग की । श्री कुमार ने बताया कि उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं की पटना में तीन जुलाई को बैठक बुलाई है, जिसमें पार्टी को लेकर विचार विमर्श किया जायेगा । इस पार्टी की स्थापना समाजवादी मूल्यों के आधार पर की गई थी लेकिन यह अनैतिक कार्य करने वालों हाथों में चली गई है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*