कैमरे ने तबाह किया 36 पुलिसकर्मियों का करिअर

एक सनसनी खेज रिश्वतखोरी मामले में मुम्बई पुलिस ने थानाध्यक्ष समेत 36 पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया है.रिश्वत लेते हुए इनकी फिल्म बनाई गयी थी.

गौतम एस मेंगले

एक सामाजिक कार्यकर्ता कसाम खान ने नेहरूनगर थाने के अधिकारियों समेत 36 पुलिसकर्मियों को रिश्वत लेते हुए फिल्म बना ली थी. कसाम खान ने इस विडियो फुटेज के साथ एक एक आवेदन आला पुलिस अधिकारियों को सौंपा था.

निलंबित किये गये पुलिसकर्मियों में नेहरूनगर थाना के प्रभारी धनंजय बगयातकर भी शामिल हैं.
कसाम खान का कहना है कि- अनेक पुलिस वाले उनके दोस्त प्रकाश नवल से एक पनाहगुजीन कैम्प की मरम्मत के लिए रिश्वत की मांग कर रहे थे.

कसाम कहतेहैं, मैं उस स्थान पर मौजूद था जब पुलिसकर्मियों को 45 हजार रुपये रिश्वत के तौर पर दिये गये. ये सारे पुलिसकर्मी थाना के इंस्पेक्टर धनंजय बगयातकर के नाम पर पैसे वसूल कर रहे थे. उनका कहना था कि इस रिश्वत का बड़ा हिस्सा बड़े अधिकारियों को दिया जाता है. इस मामले की मैंने विडियो रिकार्डिंग कर ली थी.

कसाम का कहना है कि नेहरूनगर पुलिस स्थानी लोगों के अवैध निर्मित मकानों के मालिकों से नियमित रूप से रिश्वत लिया करते थे.

इस विडियो फुटेज के आधार पर कल मुम्बई पुलिस ने सभी 36 पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया. मुम्बई के संयुक्त पुलिस आयुक्त सदानंद दाते ने कहा है कि मामले की जांच के आदेश दे दिये गये हैं.

(इंडियन एक्सप्रेस से साभार)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*