एमपी साहब से पूछिए कितनी पीड़ा है दो पत्नियां रखने में

दो पत्नियां रखने की पीड़ा इन सांसद महोदय से पूछिए. तब चुनाव आयोग को दी गयी सूचना में एक पत्नी का नाम गायब कर चर्चा में थे अब बेटे ने मारपीट के आरोप में केस दर्ज कराया है.

मंगनी लाल मंडल

मंगनी लाल मंडल

मंडल उनकी पहली पत्नी चौठिया देवी के बेटे आशीष रंजन एफआईआर दर्ज कराई है कि मंडल, उनकी दूसरी पत्नी आरती देवी, बेटा अनु कुमार ने उनके साथ मारपीट की है.

आरोप है कि सांसद के समर्थकों और आरती देवी के बेटे अनु कुमार ने आशीष और आलोक के साथ मारपीट की.अनु कुमार द्वारा फेंकी गई ईंट से आलोक का सिर फट गया.

आशीष रंजन ने एफआईआर में कहा है कि उनकी मां चौठिया देवी सांसद की पहली पत्नी हैं और उनके दो भाई हैं. दूसरी पत्नी आरती मंडल से एक पुत्र है. संपत्ति को लेकर परिवार में विवाद होता रहता है. उनके पिता दूसरी पत्नी आरती मंडल और उनके पुत्र को सारी संपत्ति देना चाहते हैं.

हालांकि मंगनी लाल मंडल ने कहा है कि राजनीतिक दुर्भावना से ग्रसित होकर कुछ लोग मेरे परिवार और पुलिस को हथियार बनाकर मेरी छवि को धूमिल करने का प्रयास कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि पारिवारिक विवाद को राजनीतिक रंग देकर बेवजह तूल दिया जा रहा है.

मालूम हो कि मंडल ने जब 2009 में लोकसभा चुनाव लड़ा था तो उन्होंने अपनी एक ही पत्नी होने संबंधी सूचना चुनाव आयोग को दी थी. इसके बाद हंगामा खड़ा हो गया. मामला सुप्रीम कोर्ट तक पहुंचा और बाद में मंडल न माना कि उन्होंने गलत सूचना दी थी.

पहले भी इग्नोर करने का लगा आरोप

मंडल पर अक्सर पहली पत्नी और उनके बच्चों को इग्नोर करने का आरोप लगता रहा है. लेकिन यह पहली बार है जब पहली पत्नी के बेटे ने उन पर एफआईआर दर्ज करायी है.

कहते हैं नयी पत्नी का मोह ज्यादातर पतियों में कुछ ज्यादा ही होता है. लेकिन सांसद मंगनी लाल मंडल की नयी पत्नी के कारण काफी फजीहत भी झेलनी पड़ी है. हालांकि मंगनी लाल मंडल अकेले सांसद नहीं है जिन्होंने ने दो शादियां की हैं. ऐसे कई उदाहरण हैं. पूर्व केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवान ने भी दो शादियां की हैं. लेकिन पासवान की दोनों पत्नियों से संबंधित कोई विवाद सामने नहीं आया.

लेकिन मंडल मामले ने तो कुछ ज्यादा ही स्थिति को गंभीर कर दिया है. जाहिर है इसका उनके सार्वजनिक जीवन पर भी असर पड़ता दिख रहा है तभी तो उन्होंने कहा है कि ऐसे विवादों को तूल देकर उनके राजनीतिक विरोधी उन्हें बदनाम करना चाहते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*