गरिमा मलिक ने संभाला पदभार, कहा – सेंसिटिव व रिस्‍पांसिव पुलिसिंग पर होगा जोर

2006 बैच की IPS अधिकारी गरिमा मलिक ने आज पटना SSP की कमान संभाल ली है। इससे पहले वे दरभंगा में  SSP पद पर तैनात थीं। उन्‍होंने मनु महराज की जगह ली है, क्‍योंकि डीआईजी में प्रोन्‍नति के बाद सरकार ने मनु महाराज को मुंगेर का डीआईजी बनाया है।

गरिमा मलिक

नौकरशाही डेस्‍क

बता दें कि आज सुबह जब गरिमा मलिक पटना SSP का कमान संभालने पहुंची, तब उनका स्‍वागत पुलिस के जवानों ने गुलदस्ता देकर किया। इस दौरान उन्‍होंने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि उनका जोर सेंसिटिव व रिस्‍पांसिव पुलिसिंग पर होगा। प्री‍वेंटिंव पुलिस उनका आधार होगा। जनता से तालमेल बैठा कर अपराधियों पर नकेल कसा जाएगा। क्राइम कंट्रोल करने के लिए सटीक रणनीति बनाई जाएगी।

Read this : नए साल में पटना को मिली नई पुलिस कप्तान,गरिमा मलिक लेंगी मनु महाराज का स्थान

गरिमा मलिक ने कहा कि अपराध पर कमान की पूरी कोशिश होगी। हालांकि अभी चार्ज लिया है। अपनी टीम से बात करूंगी, उसके बाद स्‍ट्रेटजी बनाकर पटना पुलिस चुनौतियों को स्‍वीकार करेगी। गरिमा मलिक ने कहा कि बड़ी जिम्‍मेवारियां हैं। बड़ी अपेक्षाएं है, तो बड़ी चुनौतियां भी होंगी।

Read this : मुंगेर जाने से पहले मनु महराज ने अंतिम बार किया पटना पुलिस का उत्‍साहवर्द्धन

गरिमा मलिक ने मीडिया को लोकतंत्र का चौथा मजबूत स्‍तंभ बताते हुए आपसी तालमेल से काम करने की बात कही। उन्‍होंने कहा कि लोकतंत्र को चलाने में मीडिया का योगदान अहम होता है। इसलिए उम्‍मीद है कि अनबायज्‍ड न्‍यूज के जरिये बेहतर व्‍यवस्था में बहाल करने में आपका सहयोग मिलेगा।

पटना के SSP की कुर्सी पर बैठने वालीं  55वीं और दूसरी महिला SSP हैं। गरिमा मलिक की गिनती बिहार के ईमानदार, तेज तर्रार और काबिल पुलिस अफसरों में होती है। उनके काम को देखते हुए लोग उन्हें लेडी ‘सिंघम’ भी कहकर बुलाते हैं। 2015 में वे पटना की ग्रामीण एसपी भी रह चुकी हैं।

About Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*