घूस लेते डीटीओ गिरफ्तार, बिहार बोर्ड का सहायक भी नपा

भ्रष्ट लोकसेवकों के खिलाफ चलाये जा रहे अभियान के तहत बिहार राज्य सतर्कता अन्वेषण  ब्यूरो ने कैमूर के जिला परिवहन अधिकारी समेत छह कर्मचारियों को आज अवैध वसूली और अनियमितताओं के  आरोप में गिरफ्तार कर लिया। 

 
ब्यूरो के अपर पुलिस अधीक्षक सी पी यादव ने यहां बताया कि जिला परिवहन अधिकारी अभिषेक कुमार सिंह  के भभुआ स्थित आवास और कार्यालय पर एक साथ छापेमारी की गयी। छापेमारी के दौरान उत्तर प्रदेश की सीमा से  लगे मोहनिया समेकित चेकपोस्ट कार्यालय में पांच लाख 30 हजार रुपये बरामद किये गये जिनका कोई लेखा-जोखा  नहीं मिल सका।  श्री यादव ने बताया कि ऐसा प्रतीत होता है कि बरामद रकम अवैध वसूली की है। अधिकारी के बैंक खातों की भी जांच की गयी । तलाशी के दौरान एक डायरी भी बरामद की गयी जिसमें दलालों के नाम और राशियों के विवरण दर्ज  हैं। कुछ अन्य बिन्दुओं पर भी जांच की जा रही है।

 

उधर ब्यूरो ने बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के सहायक अनिल कुमार सिंह को 50 हजार रुपये रिश्वत लेते हुए आज गिरफ्तार कर लिया ।  भोजपुर जिले के संदेश थाना क्षेत्र के सारीपुर गांव निवासी एवं कटैया स्थित बिन्देश्वरी दुबे महाविद्यालय के प्राचार्य हरेन्द्र सिंह ने ब्यूरो में लिखित शिकायत की थी कि बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के सहायक अनिल कुमार सिंह ने जांच प्रतिवेदन में संचिका बढ़ाने के एवज में उनसे एक लाख रुपये रिश्वत की मांग की है । सहायक अनिल कुमार सिंह और परिवादी के बीच बातचीत के बाद 50 हजार रुपये में मामला तय हुआ ।  मामले का सत्यापन कराये जाने के बाद पुलिस उपाधीक्षक मुन्ना प्रसाद के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया । इसी टीम ने आज आरोपी के पटना स्थित इन्द्रपुरी आवास पर परिवादी श्री दुबे से 50 हजार रुपये रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया । अभियुक्त को पूछताछ के बाद निगरानी की विशेष अदालत में पेश किया जायेगा ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*