घोटालेबाज बड़ा बाबू!

भोपाल में बिजली विभाग के एक क्लर्क अर्जुन दास लालवानी के घर छापेमारी से 50 करोड़ की संपत्ति बरामद हुई है.

अर्जुन दास: अब पछताये होत क्या!

लोकायुक्त द्वारा अभी तक चालीस करोड़ से ज्यादा की जमीन, कई दुकानों और प्लॉटो के कागजात, सोने-चांदी के जेवर समेत 80 लाख रुपये की फिक्स्ड डिपॉजिट जब्त किये जा चुके हैं. बिजली महकमें में सहायक ग्रेड-2 के पद पर काम करने वाले अर्जुन लालवानी के खिलाफ आय से ज्यादा संपत्ति की शिकायतें थीं.

अर्जुन 1983 से बिजली विभाग में काम कर रहे हैं.उनका वेतन केवल 40 हजार रुपए से कुछ ज्यादा है पर इतनी सैलरी में 50 करोड़ का खजाना कहां से आया ये देखकर सभी दंग रह गए.

हालांकि अर्जुन दास ने सभी आरोपों से इनकार किया है.अर्जुन का कहना है कि असल में लोकायुक्त जिस संपत्ति को 50 करोड़ रुपए का बता रही है, वो महज एक करोड़ रुपए से ज्यादा की नहीं है.
अर्जुन के मुताबिक ये तो उनके पूरे परिवार के मेहनत की कमाई है और पूरी सम्पत्ति पर टैक्स भुगतान भी किया जाता है.

उनका यह भी कहना है कि उनकी बेटी डॉक्टर है जब कि बेटा भी इंजीनियर है.

इस मामले में लोकायुक्त पुलिस के डीएसपी विनोद शर्मा ने कहा है कि आगे जांच की जा रही है.

मध्यप्रदेश में ग्रेड 2 औ ग्रेड3 के कई अन्य अधिकारी भी आय से अधिक सम्पत्ति अर्जित करने के आरोपों के केस में फंस चुके हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*