चुनौतियों से मुकाबले के लिए आगे आएं युवा

पूर्व मुख्यमंत्री और जदयू के वरिष्‍ठ नेता नीतीश कुमार ने पार्टी के युवाओं को देश और प्रदेश में आसन्न संकटों से आगाह करते हुए आगे आकर सक्रिय होने के लिए कहा, ताकि अलगाववादी ताकतों को रोका जा सके। वे रविवार को दल के युवा प्रकोष्ठ के पदाधिकारियों को संबोधित कर रहे थे। श्री कुमार ने कहा कि देश की आजादी में नेतृत्वकारी योगदान देने वाले राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी के हत्यारे को महिमामंडित करने और लोगों को धर्म के नाम पर लड़ाने की साजिश चल रही है।nitish

नीतीश कुमार ने युवा प्रकोष्‍ठ को दिया टिप्‍स

 

उन्होंने कहा कि प्रचार साधनों का दुरूपयोग करके और झूठे वादे करके युवाओं को ठगा गया है। कहा गया था कि रोजगार के अवसर बनायेंगे, और सरकारी नौकरियों पर प्रतिबन्ध लगा दिया गया। केंद्र द्वारा भूमि अर्जन कानून में किये गए संशोधनों पर श्री कुमार ने कहा कि 1894 के क़ानून को कांग्रेस की सरकार ने 2013 में संशोधित कर किसानों और जमीन मालिकों व मजदूरों के पक्ष में कर दिया था, जिसे भाजपा की केंद्र करकर ने पलट दिया। अब किसानों की जमीन बिना उसकी मर्जी के भी ले ली जाएगी और बड़े कार्पोरेट घरानों को सौंप दी जायेगी।

 

 

पूर्व मुख्यमंत्री ने अपने छात्र जीवन से लेकर बिहार के सत्ता काल तक के ढेर सारे अनुभव भी सुनाकर युवाओं का मार्गदर्शन किया। उन्‍होंने युवाओं से पार्टी के जनाधार विस्‍तार में जुट जाने की अपील की। दल के प्रदेश अध्यक्ष बशिष्ठ नारायण सिंह और पार्टी के राज्यसभा सांसद हरिवंश के आलावा प्रशिक्षण प्रभारी और प्रदेश महासचिव सुनील कुमार ने भी अपने विचार रखे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*