छत्‍तीसगढ़ के पूर्व डीजीपी एसके पासवान कांग्रेस में शामिल

छत्तीसगढ़ के पूर्व पुलिस महानिदेशक संत कुमार पासवान अपने सैकड़ों समर्थकों के साथ अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी में शामिल हो गये। श्री पासवान ने अपने सैकड़ों समर्थकों के साथ अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी के बिहार प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल एवं प्रदेश कांग्रेस कमिटी के अध्यक्ष मदन मोहन झा की उपस्थिति में पटना के सदाकत आश्रम में कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण की। 

इस अवसर पर श्री पासवान ने कहा कि सबको जांचा, सबको परखा, सबसे अच्छी कांग्रेस पार्टी। उन्होंने कहा कि वह कांग्रेस की नीतियों एवं कार्यक्रमों में पूरी आस्था रखकर पार्टी में शामिल हुए हैं। इस दौरान पटना 18 के वार्ड पार्षद रंजन कुमार, रविभूषण, सुरेश पासवान, दिनेश पासवान समेत करीब दो सौ से अधिक लोगों ने कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण की। श्री गोहिल ने श्री संत कुमार पासवान एवं उनके साथियों का स्वागत करते हुए कहा कि कांग्रेस सभी धर्म, वर्ग एवं सम्प्रदाय के लोगों को साथ लेकर चलती है।

संत कुमार पासवान भारतीय इतिहास के पहले ऐसे आईपीएस अफसर हैं जिन्हें डीजी रैंक से डिमोट करके एडीजी बनाया गया था.  पासवान 1978 बैच के आईपीएस अफसर थे.

 

भाजपा राज में संविधान पर खतरा

उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सरकार में आज संविधान पर खतरा उत्पन्न हो गया है। उन्होंने कहा कि स्वतंत्रता आन्दोलन की लड़ाई में सबसे अधिक योगदान बिहार के नेताओं का रहा है। बिहार कांग्रेस का बड़ा गौरवशाली इतिहास रहा है तथा यह बुद्ध एवं चाणक्य की भूमि रही है। इस माैके पर डाॅ. झा ने कहा कि कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी को बिहार कांग्रेस से बड़ी आशा है। उन्होंने कहा कि श्री गोहिल के प्रभारी बनने के बाद उन्होंने अल्प समय में ही बिहार के कांग्रेस कार्यकर्ताओं से जिलों एवं प्रखंडों का दौरा कर संवाद स्थापित किया। उन्होंने कहा कि श्री गोहिल के अथक प्रयासों से बिहार कांग्रेस में नयी ऊर्जा का संचार हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*