जदयू के चार बागियों पर शनिचरा ग्रह, विधायकी गयी

बिहार विधानसभा के अध्यक्ष उदय नारायण चौधरी ने सत्तारूढ़ जदयू के चार बागी विधायकों की सदस्यता आज समाप्त कर दी है। विधानसभा अध्यक्ष श्री चौधरी ने जदयू के बागी विधायक और पूर्व मंत्री अजित कुमार सिंह, पूनम देवी, सुरेश चंचल और राजू सिंह की विधानसभा की सदस्यता समाप्त कर दी। इसके साथ ही चारों बागी विधायकों को पूर्व विधानसभा सदस्य के रूप में मिलने वाली सुविधा भी नहीं दी जायेगी।

vidhan sabha

 

गौरतलब है कि कि राज्यसभा चुनाव के दौरान पार्टी के उम्मीदवारों के विरूद्ध खड़े निर्दलयीय उम्मीदवार का समर्थन  करने के कारण जदयू के मुख्य सचेतक और संसदीय कार्यमंत्री श्रवण कुमार ने विधानसभा अध्यक्ष को लिखित शिकायत की थी कि इन विधायकों ने स्वेच्छा से पार्टी छोड़ दी है, इसलिये विधानसभा से इनकी सदस्यता समाप्त कर दी जाये। विधानसभा अध्यक्ष ने इस मामले में सुनवाई पूरी करने के बाद फैसला सुरक्षित कर लिया था।

 

इस बीच बागी विधायकों ने विधानसभा अध्यक्ष के इस फैसले को लोकतंत्र का गला घोंटेने वाला फैसला बताया और कहा कि वे इस फैसले को उच्च न्यायालय में चुनौती देंगे। स्‍पीकर ने जदयू के चार विधायकों की सदस्‍यता पहले ही रद्द कर दी थी। इनमें ज्ञानेंद्र सिंह ज्ञानू, रवींद्र राय, नीरज कुमार बबलू और राहुल कुमार शामिल हैं। इन विधायकों ने स्‍पीकर के फैसले के खिलाफ पहले से ही पटना उच्‍च न्‍यायालय में मामला दर्ज कर रखा है। स्‍पीकर ने अब तक सत्‍तारुढ दल के आठ विधायकों की सदस्‍यता समाप्‍त कर दी है। उल्‍लेखनीय है कि राज्‍यसभा चुनाव में जदयू के 21 विधायकों ने निर्दलीय उम्‍मीदवारों के पक्ष में मतदान किया था। उनमें से मात्र आठ विधायकों के खिलाफ पार्टी के मुख्‍य सचेतक श्रवण कुमार ने कार्रवाई की अनुशंसा स्‍पीकर से की थी। शेष 13 को नीतीश कुमार ने अभयदान दे दिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*