जनादेश अपमान यात्रा : तेजस्‍वी की ललकार – हिम्मत है तो आओ चुनावी मैदान में, बापू से मांगी माफी

राजद की ‘जनादेश अपमान यात्रा’  की शुरुआत आज मोतिहारी से हो चुकी है. इस दौरान पूर्व उपमुख्‍यमंत्री व विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने कलेक्ट्रेट मैदान में बापू की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया और प्रतिमा के नीचे धरने पर बैठे. इस दौरान उन्‍होंने बापू से नीतीश को नहीं पहचान पाने के चलते माफी मांगी. उनके साथ पूर्व मंत्री और बड़े भाई तेजप्रताप यादव भी मौजूद रहे. 

नौकरशाही डेस्‍क

वहीं, तेजस्‍वी ने सोशल मीडिया पर रैली से संबंधित कई पोस्‍ट कर नीतीश कुमार को ललकारा. तेजस्‍वी ने एक के बाद एक कई ट्वीट कर लिखा – ‘सड़क किनारे के सारे के सारे गांव जोश और ज़ुनून के साथ मैदान में है. जनादेश का अपमान जनता नहीं सहेगी. हिम्मत है तो आओ चुनावी मैदान में.’ उन्‍होंने कहा कि ये बुलाई गई नहीं नीतीश कुमार जी द्वारा ठगी हुई जनता है. इसी जनता द्वारा दिए गए अपार जनादेश पर नीतीश कुमार ने दिन-दहाड़े डाका डलवा दिया. बिहार की न्यायप्रिय जनता में ग़ज़ब आक्रोश है. दिन-दहाडे नीतीश कुमार ने जनादेश की पीठ में ख़ंजर घोंपा. जनता इस विश्वासघात का करारा जवाब देगी.

उन्‍होंने लिखा – हे राम, जय सिया राम, जय जय राम पूर्वी चंपारण के मोतीहारी में बापू गांधी जी से माफ़ी के साथ शुरू किया “जनादेश अपमान यात्रा” का आगाज. गौरतलब है कि कल यात्रा पर रवानगी के बाद तेजस्‍वी ने ट्वीट कर मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार पर हमला बोला था. उन्‍होंने लिखा था कि जनता में बेहद आक्रोश है. नीतीश जी मे हिम्मत है और अपने निर्णय पर गुमान है तो इस महीने बिहार घूम कर देख ले, अंतरात्मा का दर्शन भी हो जाएगा.

इससे पहले मोतिहारी में आज हजारों की संख्‍या में जुटे राजद कार्यकर्ता को संबोधित करते हुए कहा कि सत्ता आती जाती रहती है. हमें इसका गम नहीं है. हम वैचारिक लड़ाई लड़ रहे हैं और इसमें जनता के सहयोग की जरूरत है. आज देश में भाई-भाई को बांटने और नफरत फैलाने की राजनीति हो रही है. हमें इसका मुकाबला करना है. बापू ने सपना देखा था कि आजाद भारत में आर्थिक समानता होगी, लेकिन उनका सपना अधूरा है. हम उनके सपने को साकार करने के लिए काम करेंगे.

वहीं तेजप्रताप यादव, जो इस यात्रा में तेजस्वी के साथ हैं, ने कहा कि बापू की कर्मभूमि पर जनता का अपार समर्थन पा कर अभिभूत हूं. उन्होंने बापू की धरती को नमन करते हुए कहा कि यहां की जनता नीतीश कुमार को सबक सिखाने के लिए तैयार है.<blockquote class=”twitter-tweet” data-lang=”en”><p lang=”hi” dir=”ltr”>बापू हमलोगों को माफ कीजिएगा,हम भटक गए थे और उनके नेतृत्व में आगे बढ़ रहे थे जो आपके हत्यारों के साथी निकला<br><br>&quot;जनादेश अपमान यात्रा&quot;का आगाज हुआ <a href=”https://t.co/JwJzJ5Tuw6″>pic.twitter.com/JwJzJ5Tuw6</a></p>&mdash; Tej Pratap Yadav (@TejYadav14) <a href=”https://twitter.com/TejYadav14/status/895180356768411648″>August 9, 2017</a></blockquote>
<script async src=”//platform.twitter.com/widgets.js” charset=”utf-8″></script>

उल्‍लेखनीय है कि महागठबंधन से नीतीश कुमार के अलग होने के बाद से राजद का रूख उन पर हमलावर है. जहां पहले से ही लालू प्रसाद ने भाजपा और संध के खिलाफ 27 अगस्‍त को एक रैली की घोषणा की थी, मगर बीच में ही उपमुख्‍यमंत्री तेजस्‍वी यादव पर सीबीआई द्वारा दर्ज एफआईआर के बाद नीतीश कुमार ने महागठबंधन से अलग होकर भाजपा गठबंधन के साथ मिलकर सरकार बना ली। इसके बाद उपमुख्‍यमंत्री तेजस्‍वी यादव समेत राजद ने 27 अगस्‍त की रैली में भाजपा और नीतीश कुमार को बेनकाब करने के‍ लिए जनादेश अपमान यात्रा करने का निर्णय लिया था.

About Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*