जन्‍मदिन की पूर्व संध्‍या पर वाजपेयी और मालवीय को भारत रत्‍न

पंडित मदन मोहन मालवीय और पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को देश का सर्वोच्‍च  नागरिक सम्मान भारत रत्न से सम्मानित करने का निर्णय लिया गया है। राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने आज ट्वीट कर यह जानकारी दी कि श्री मालवीय और श्री वाजपेयी को भारत रत्न से सम्मानित किया जायेगा। श्री मालवीय को यह सम्मान मरणोपंरात दिया जा रहा है।  राष्ट्रपति ने लिखा है कि पंडित मदनमोहन मालवीय और अटल बिहारी वाजपेयी को भारत रत्न से सम्मानित करने का निर्णय लेते हुए उन्हें खुशी हो रही है। वाजपेयी भारत रत्न पाने वाले 44वें व्यक्ति होंगे। बीएचयू के संसस्‍थापक मदन मोहन मालवीय कांग्रेस के चार बार अध्‍यक्ष रह चुके थे।bja
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में आज सुबह हुई केन्द्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में इन दोनों नेताओं को यह सम्मान देने के संबंध में अंतिम निर्णय लिया गया और इसकी घोषणा राष्ट्रपति ने की।इस सम्मान की घोषणा गुरुवार यानी 25 दिसंबर को वाजपेयी के 90वें जन्मदिन से पूर्व की गई है। उधर, अटलजी को भारत रत्‍न दिए जाने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुशी जताई। पीएम मोदी ने आज ट्वीट करके खुशी जताई। उन्‍होंने कहा कि कहा ये बहुत खुशी का मौका है। अटलजी को देश की सेवा के बदले में सम्‍मान मिला है।

 

श्री वाजपेयी और पंडित मालवीय दोनों हस्तियों का जन्‍मदिन 25 दिसंबर को है। इस खास मौके पर पीएम नरेंद्र मोदी की ओर से ये पहल दोनों शख्सियतों के लिए विशेष तोहफा है। दोनों नेताओं के नाम को स्‍वीकृति मिलने के बाद अब राष्‍ट्रपति की ओर से नोटिफिकेशन जारी किया जाना शेष रह गया है। उल्‍लेखनीय है कि लोकसभा चुनावों के दौरान पीएम मोदी ने बीएचयू की स्थापना करने वाले मालवीय को भारत रत्न देने का वादा किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*