जन धन योजना के तहत साढ़े 11 करोड़ खाते खुले

केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने प्रधान मंत्री जन धन योजना को सबसे सफल सरकारी योजना करार देते हुए आज कहा कि इसके तहत अब तक 11.50 करोड खाते खुले हैं, जिनमें करीब 9।88 करोड रुपए जमा हुए हैं। सर्वाधिक खाते खुलने पर इस योजना को गिनीज बुक में जगह मिली है।   श्री जेटली ने नई दिल्‍ली में संवाददाता सम्मेलन में कहा कि यह योजना पिछले वर्ष 15 अगस्त से शुरू हुई और 26 जनवरी तक इसमें साढे सात करोड खाते खोलने का लक्ष्य निर्धारित किया गया था, लेकिन 17 जनवरी तक इसके तहत 11.50 करोड खाते खुले हैं जो लक्ष्य से बहुत अधिक है। इस योजना के तहत खोले गए कुल खातों में से 3.23 करोड खातों में जमा हुए है। pibजन धन योजना के तहत साढ़े 11 करोड़ खाते खुले

 

उन्होंने कहा कि देश में 25 करोड परिवारों को इससे जोड़ा जाना है और अब तक 21.8 करोड परिवारों तक इस बैंक मित्र पहुंचे हैं। उनका कहना था कि देश में इस स्तर पर कर्मचारियों का परिवारों तक पहुंचने का काम सिर्फ मतदाता सूची बनाने के दौरान ही हो सकता है किसी अन्य सरकारी योजनाओं के क्रियान्वयन इतना असरदार काम कम ही होता है। उन्होंने कहा कि इसमें काम करने की गति 99.74 प्रतिशत रहा है, जिसकी सराहना की जानी चाहिए। श्री जेटली ने कहा कि इस योजना के तहत सबसे ज्यादा 9 करोड 12 लाख खाते सरकारी क्षेत्र के बैंकों ने खोले हैं, जबकि क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों ने दो करोड और निजी क्षेत्र के बैंकों ने 0.38 करोड खाते खोले हैं। इसमें 6 करोड 84 लाख खाते ग्रामीण क्षेत्रों में और 4.66 करोड खाते शहरी क्षेत्रों में खोले गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*