जमुई के खूनख्वार नक्सली सूरज दा को पुलिस ने दबोचा

लंबे अरसे से जमुई पुलिस की जनता नींद हराम कर देने वाले नक्सली सूरज दा उर्फ़ लखन दा और उसके सहयोगी महिला नक्सली सुनीता मरांडी सहित 3 नक्सलियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।moist

मुकेश कुमार सिंह, जमुई से

बुधवार को जमुई -नवादा के सीमा सरहद पर कौवाकोल थाना क्षेत्र के ताराकोल के जंगली इलाके में सीआरपीएफ और एसटीएफ की टीम ने छापेमारी के दौरान कई नक्सली बंकर को ध्वस्त करते हुए नक्सली लखन दा और उसके सहयोगी को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त कर ली। उक्त नक्सली टीम ने जमुई शहर के दो पेट्रोल पंप पर हमला बोलकर वहाँ कार्यरत कर्मियो के मोबाइल फ़ोन को छिनते हुए उसी मोबाइल से एक करोड़ रुपये के लेवी की मांग की थी।

इस घटना के दौरान मोटरसाइकिल पर सवार होकर इन लोगो के द्वारा कारबाइन दिखाकर पेट्रोल पंप कर्मियो को धमकाया भी गया था।उक्त घटना के उपरांत सिकंदरा प्रखंड के मिरचा गॉव में मुखिया बालगोविन्द यादव के घर पर भी हमला बोलकर खतरनाक परिणाम भुगतने की धमकी दी गई।जिसमे मुखिया ने छत से कूदकर अपनी जान बचाई थी। गांव में लगे मोबाइल टावर के गार्ड की भी पिटाई की गई और टावर बंद रखने का हुकुम दिया गया था। घटना की सूचना मिलते ही जमुई के एसपी जयंतकांत और एसडीपीओ सुरेन्द्र प्रसाद सिंह दल-बल के साथ पहुँचे थे। तबतक यह गिरोह फरार हो चूका था।

जमुई शहर में अपनी चहलकदमी बढ़ाकर नक्सली लखन दा ने पुलिस प्रशासन की नींद हराम कर दी थी।अलीगंज में प्रखंड प्रमुख के पुत्र रामानंद यादव की चिमनी सहित कोडबरिया पंचायत के मुखिया नगीना रविदास को भी अपनी गिरफ्त में लेने के लिये उसने यहाँ भी दहशत फ़ैलाया थी।जिसके बाद इसने अपना ठिकाना इसी क्षेत्र को बना लिया था। जिसे बुधवार को पुलिस की टीम ने गिरफ्तार कर लिया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*