जमुई में मजहबी भाईचारा बिगाड़ने के फिराक में अफवाहबाज

अफवाह फैलाकर  साम्प्रदायिक फसाद राज्य के विभिन्न क्षेत्रों में फैलाने की साजिश पिछले कुछ महीने में हुई है। इसी तरह का कुचक्र जमुई मे बुने जाने की बू आने लगी है।hindu.muslim

मुकेश कुमार, पूर्वी बिहार ब्यूरो

जमुई शहर अपनी गति से चल रहा था। सहसा ना जाने इस अमन-चैन वाले नगर पर किसकी बुरी नजर लग गयी की आमलोग अफवाहों के बाजार के बीच में अपने आप को महसूस करने लगे।रामु की चाय दुकान की भीड़ और असलम के रिक्शे की सवारी पर भी शाम ढलते ही आफत होने लगी।

फिरकापरस्त लोगो ने इस मौके का फायदा उठाने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी।भला हो जमुई के अनुमंडलाधिकारी , विजय कुमार का और बीडीओ स्नेहिल आनंद का जिन्होंने अपनी सूझ-बुझ से फैलाये जा रहे अफवाह पर नियंत्रण करते हुए तनाव को दूर करने की कोशिश करते हुए अनहोनी घटना घटित होने से पहले सुरक्षा के चाक-चौबंद व्यवस्था को यहां दुरुस्त कर डाला।

बताते चले की जमुई  में पिछले दिनों कुछ मनचलो की नापाक हरकतों के कारण जिला प्रशासन को विधि-व्यबस्था की परेशानी से जूझना पड़ा था।जिसे प्रशासन ने दोनों गुटो के बीच शांति कमिटी की बैठक बुलाकर तनाव को हल करने का प्रयास किया।

अभी चर्चा पुरानी भी नहीं हुई थी कि एक लड़के के जख्मी अवस्था में मिलने की चर्चा को दो संप्रदाय के लोगो के बीच फैलायी जाने लगी। शहर के शांतिनगर में रहने वाले एक समुदाय के लड़के को जख्मी अवस्था पाये जाने के बाद इस घटना को साम्प्रदायिक रंग देने की पूरी कोशिश की गयी।जबकि उक्त लड़के की चिकित्सा करवाते हुए उसे बेहतर इलाज के लिए पटना भेजने का कार्य प्रशासन ने किया।जमुई के अनुमंडल पदाधिकारी बिजय कुमार व बीडीओ स्नेहिल आनंद की संयुक्त  पहल कदमी से शांति तो बन गयी लेकिन अब भी आशंका है कि अफवाहबाज ऐसी हरकतें करके शहर की शांति को भंग करने की कोशिश करेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*