जिला पर्षद अध्यक्षा ने किया स्कूलों का निरीक्षण तो माध्यमिक स्कूलों में नहीं मिली भंडार पंजी, गायब थे शिक्षक

-छात्रों ने बताया कि हरी सब्जी भी नहीं मिलती

पटना:

जिला पर्षद अध्यक्षा ने किया स्कूलों का निरीक्षण

जिला पर्षद अध्यक्षा ने किया स्कूलों का निरीक्षण

पटना जिले के स्कूलों में शिक्षा व्यवस्था का बहुत ही बुरा हाल है। ना ही शिक्षक रहते हैं ना ही मिड डे मील ही अच्छे ढंग संचालित किया जा रहा है। जिला परिषद की अध्यक्षा अंजू देवी ने जब पटना के फुलवारीशरीफ, नौबतपुर और बिक्रम प्रखंड के स्कूलों का निरीक्षण किया तो व्यापक खामियां पायी गयी। फुलवारी के उत्क्रमित मीडिल स्कूल हनुमानचक सिमरा, नौबतपुर के प्लस टू स्कूल चिरौरा और राजकीय त्रिभुवन माध्यमिक उच्च विद्यालय के साथ बिक्रम के पार्वती उच्च माध्यमिक विद्यालय का औचक निरीक्षण किया गया तो कई गड़बड़ियां मिली।
उत्क्रमित मध्य विद्यालय हनुमान सिमरा में एकमात्र प्रभारी प्रधानाध्यापक उपस्थित थे। बाकी सभी पांच शिक्षक प्रतिनियुक्ति में बताये गये। यहां कुल नामांकित 92 छात्रों में मात्र 42 छात्र ही उपस्थित थे। मिड डे मील की भंडार पंजी भी गायब थी. छात्रों का कहना था कि यहां कभी हरी सब्जी नहीं बनती है। स्कूलों में मिड डे मील का मेनू भी नहीं लिखा हुआ था।
हाईस्कूल चिरौरा में 18 में से 11 शिक्षक अनुपस्थित थे। कंप्यूटर सेक्शन की पिंकी देवी रजिस्टर लेकर गायब थी। राजकीय त्रिभुवन माध्यमिक हाईस्कूल में प्रभारी प्राचार्या तरुलता कुमारी सहित ज्यादातर शिक्षक बिना प्रस्थान का समय अंकित किये ही गायब थे। संतोष पासवान नामक शिखक बिना छुट्टी का आवेदन दिये ही गायब थे। लिपिक देवाशीष राय पदस्थापना के बाद से ही प्रतिनियुक्ति करा गायब हैं। अध्यक्षा अंजू देवी ने इन स्कूलों की बदहाली के मामले में जिला शिक्षा पदाधिकारी से रिपोर्ट तलब करने का फैसला किया है। यदि रिपोर्ट संतोषप्रद नहीं रही तो वह शिक्षा मंत्री से भी मिलेंगी। उन्होंने बताया है कि बिल्कुल अंधेरगर्दी मची हुई है। स्कूलों का बहुत बुरा हाल है। सब शिक्षक और कर्मचारी अपनी मरजी चला रहे हैं जबकि ये जनता के प्रति जवाबदेह हैं। बच्चों को ना बेहतर पढ़ाई ना ही भोजन दिया जा रहा है। जिप अध्यक्षा के साथ नौबतपुर मध्य के जिला पर्षद सदस्य नागेंद्र कुमार, नौबतपुर दक्षिणी के जिला पर्षद सदस्य जयप्रकाश पासवान, उदित नाथ तिवारी, गुड्डू सिंह, रजनीश कुमार, कनीय अभियंता विरेंद्र कुमार सिन्हा भी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*