जेपीएससी के सचिव हटाए गये

झारखंड लोक सेवा आयोग (जेपीएससी) की छठी संयुक्त परीक्षा में कथित अनियमितता के मद्देनजर परीक्षा रद्द करने की मांग को लेकर विधानसभा में जारी हंगामे के बीच सरकार ने आयोग के सचिव जगजीत सिंह का तबादला कर दिया।
कार्मिक, प्रशासनिक सुधार तथा राजभाषा विभाग की ओर से जारी अधिसूचना के अनुसार, जेपीएससी के सचिव जगजीत सिंह को गृह, कारा एवं आपदा प्रबंधन विभाग के विशेष सचिव के पद पर स्थानांतरित कर दिया गया है। वहीं, डॉ. रामदयाल मुंडा जनजातीय शोध संस्थान, रांची के निदेशक रणेन्द्र कुमार को अपने कार्यों के साथ जेपीएससी के सचवि पद का अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया है।

इससे पहले झारखंड लोक सेवा आयोग (जेपीएससी) की छठी संयुक्त परीक्षा में कथित अनियमितता के मद्देनजर परीक्षा रद्द करने की मांग को लेकर विधानसभा में सत्ता पक्ष और विपक्ष के सदस्यों ने हंगामा किया। झारखंड विकास मोर्चा (प्रजातांत्रिक) के विधायक प्रदीप यादव ने विधानसभा में प्रश्नकाल के दौरान इस मुद्दे को उठाया और कहा कि यदि छठी जेपीएससी की मुख्य परीक्षा ली गई तो राज्य के हजारों युवाओं का भविष्य प्रभावित होगा। उन्होंने कहा कि आयोग द्वारा वैसे अभ्यर्थियों को भी प्रवेश पत्र भेजा गया है, जिन्होंने मुख्य परीक्षा का आवेदन किया ही नहीं है।

वहीं, नेता प्रतिपक्ष एवं झारखंड मुक्ति मोर्चा के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन ने कहा कि राज्य में वैसे भी नौकरियों का अभाव है, जिसके कारण लोग पलायन करने को मजबूर हैं। उन्होंने सभा अध्यक्ष दिनेश उरांव से आग्रह किया कि वह सरकार को इस परीक्षा को तत्काल प्रभाव से रद्द करने और इसमें हुई नियमितता की जांच कराने का निर्देश दें। जांच पूरी होने के बाद ही परीक्षा का आयोजन किया जाये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*