जोर पकड़ता जा रहा है बेगूसराय को प्रमंडल बनाने का आंदोलन

बेगूसरय को प्रमंडल बनाने की मांग तेज होती जा रही है. इसक लिए बेगूसराय प्रमंडल बनाओ संघर्ष समीति पिछले कई महीनों से संघर्ष कर रही है.

संघर्ष समीति के संयोजक इफ्फतुर रहमान

संघर्ष समीति के संयोजक इफ्फतुर रहमान

 

बेगूसराय प्रमंडल बनाओ संघर्ष समीति के संयोजक इफ्फतुर रहमान का कहना है कि जब तक प्रमंडल नहीँ बनजाता तब तक हमारी टिम चैन से नहीँ बैठ सकती है.

समिति इस बात के लिए अपना आंदोलन तेज कर रही है कि बेगूसराय में मेडिकल काँलेज-सह-अस्पताल, इंजीनियरिँग काँलेज, दिनकर विश्वविधालय, आयुर्वेद महाविधालय, होमयोपैथ महाविधालय, हवाई अड्डा, रेलवे यार्ड गढहारा, खाद खारखाना एवं सभी बंद उधोग, म्युजियम, अंडी रेशम उधोग, काबर झील, पक्षी विहार, नौलखा मंदिर, सिँघौल एवं वीरपुर का पुरातत्व, मनसुरचक की मूर्ति कला, खेल स्टेडियम, मल्टीपरपस सांस्कृतिक भवन, नुरजहाँ की मस्जीद, खेल, साहित्य एवं कला संस्कृति की पहचान राष्ट्रीय स्तर पर लाना है.

मुख्य मांगें

बेगूसराय को प्रमंडल बनाने के अलावा यहां मेडिकल काँलेज-सह-अस्पताल, इंजीनियरिँग काँलेज, दिनकर विश्वविधालय, आयुर्वेद महाविधालय, होमयोपैथ महाविधालय, हवाई अड्डा बनाया जाये.

रहमान ने कहा है कि बेगूसराय की पहचान राष्ट्रीय स्तर पर लाने के लिए बेगूसराय प्रमंडल बनाओ संघर्ष समित इसके लिए कृत संकल्पित हैँ. उन्होंने कहा कि बेगूसराय का विकास तभी सम्भव है जब प्रमंडल बन जाएगा. फिलहाल बेगूसराय  मुंगेर प्रमंडल तहत आता है. मुंगेर प्रमंडल बिहार का सबसे बङा प्रमंडल  है जिसके तहते छह जिले आते हैं. इफ्तुर रहमान ने राज्य सरकार पर आरोप लगाया है कि बेगूसराय जिला बिहार मेँ सबसे ज्यादा राजस्व देता है इसके बावजूद इसके संग सौतेला व्योहार किया जाता है. उन्होंने घोषणा कि है कि उनकी समिति इस नाइंसाफी के खिलाफ आर पार की लड़ाई लड़ने को तैयार है. इसके लिए शहर से लेकर गांव तक आंदोलन को मजबूत किया जायेगा.

 

प्रमंडल बनाओ संघर्ष समीति ने अपनी यह मांग जद यू के वरिष्ठ नेता नीतीश कुमार और राजद सांसद पप्पु यादव के सामने बी रखी है. उन्होंने कहा कि हम पक्ष विपक्ष दोनो से मांग करेँगे जो सुनेगा उनका बेगूसराय कि जनता सुनेगी.  इफ्तुर रहमान ने कहा कि यह लङाई व्यक्ति कि लङाई नहीँ बल्कि बेगूसराय कि 25 लाख जनता कि लङाई है. उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को याद दिलाया है कि उन्होंने गढपुरा नमक सत्याग्रह स्थल पर भाषण मेँ बेगूसराय को प्रमंडल बनाने कि बात कहीँ थी पर बेगूसराय कि जनता का सपना अभी तक अधूरा है. उन्होंने कहा कि मैँ  मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी से आशा करता हूं कि वे नीतीश जी के वादे को पूरा करेँगे तभी जनता का दिल जीत सकते हैँ. अगर बिहार सरकार अपना निर्नय नहीँ देती है तो हम रामकृपाल यादव जी से इसकी चर्चा करेँगे मुझे पूरा भरोसा है कि रामकृपाल यादव बेगूसराय को प्रमंडल बनाने मेँ अपना योगदान देंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*