डीएसपी हत्या:जांच में बाधा बने 103 पुलिसकर्मी हटे

डीएसपी जियाउल हक और तीन अन्य लोगों की हत्या की सीबीआई जांच में बाधा बने एएसपी व चार थाना प्रभारियों समेत 103 पुलिसकर्मियों को हटा दिया गया है.

उत्तर प्रदेश के कुंडा के डीएसपी और वलीपुर के ग्राम प्रधान नन्हे यावद व सुरेश यादव की हत्या 2 मार्च को कर दी गयी थी. इस मामले की जांच कर रही सीबीआई की टीम ने राज्य सरकार से अनुरोध किया था क स्थानीय पुलिस अधिकारी जांच को प्रभावित कर रहे हैं. इसलिए उनका तबादला कर दिया जाये.

सीबीआई के जांच दल का कहना है कि उसे आशंका है कि इनके डर के चलते लोग सीबीआई से खुलकर बात नहीं कर रहे हैं.

जिन पुलिस अधिकारियों को हटाने की सिफारिश की गई थी, उनमें अपर पुलिस अधीक्षक आशाराम यादव, कुंडा थाना प्रभारी प्रकाश राय, हथिगवां थाना प्रभारी निशिकांत राय, मानिकपुर थाना प्रभारी मनोज कुमार और नवाबगंज थाना प्रभारी अरविंद सिंह शामिल थे. सीबीआई के पत्र पर त्वरित कार्रवाई करते हुए राज्य सरकार ने बुधवार को पांचों पुलिस अधिकारियों को हटाने के आदेश दिए.

उत्तर प्रदेश के अपर पुलिस महानिदेशक (कानून एवं व्यवस्था) अरुण कुमार ने कहा कि सीबीआई ने जिन पांच अधिकारियों को हटाने की सिफारिश की थी, उन्हें हटाने की कार्रवाई की गयी है.
मालूम हो की डीएसपी जियाउल हक की पत्नी ने उनकी हत्या के लिए तत्कालीन मंत्री राजा भैया को जिम्मेदार ठहराया था इसके बाद राजा भैया ने पद से इस्तीफा दे दिया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*