डीसीपी प्रभाकर को मिली लापरवाही की सजा

दिल्ली सामूहिक दुष्कर्म मामले में लापरवाही की गाज पुलिस उपायुक्त (डीसीपी) प्रभाकर पर गिरी है.उन्हें पद से हटा दिया गया है. इसी तरह दक्षिण जिला डीसीपी क्षमा शर्मा को मिजोरम भेज दिया गया है.

डीसीपी प्रभाकर; लापरवाही की सजा

डीसीपी प्रभाकर; लापरवाही की सजा

प्रभाकर को प्रधानमंत्री सुरक्षा में तैनात किया गया है जबकि प्रधानमंत्री सुरक्षा की जिम्मेदारी में लगे अजय कुमार को प्रभाकर की जगह भेजा गया है.

ध्यान रहे कि 5 वर्षी गुड़िया की गुमशुदगी और सामुहिक रेप मामले में पुलिस की लापरवाही पर विजिलेंस की रिपोर्ट के बाद यह कार्वाई की गयी है.

रिपोर्ट में पुलिसकर्मियों को दोषी ठहराया गया है. रिपोर्ट के अनुसार लिखित शिकायत के बावजूद पुलिस इस मामले की जांच में टालमटोल कर रही थी. जबकि गांधीनगर थाना, जहां की यह वारदात है, के एसएचओ धर्मेंद्र पाल सिंह ने पीड़िता के पिता को दो हजार रुपये ले कर चुप रहने को कहा था.

धर्मेंद्रपाल सिंह और जांच अधिकारी महावीर सिंह को पहले ही निलंबित कर दिया गया है. इधर दिल्ली के पुलिस प्रमुख नीरज कुमार ने पिछले दिनों इस बात से इनकार नहीं किया था कि धर्मेंद्रपाल सिंह और महावीर सिंह को सेवा से बर्खास्त किया जा सकता है.

इस मामले पर विरोध प्रदर्शन करने वाली महिला को थप्पड़ मारने वाले पुलिस अधिकारी एसीपी बीएस अहलावत को भी पहले निलंबित किया जा चुका है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*