शाहीन बाग़ की ‘बिलकिस दादी’ TIME मैगज़ीन की विश्व की 100 हस्तियों में

शाहीन बाग़ की ‘बिलकिस दादी’ TIME मैगज़ीन की विश्व की 100 हस्तियों में

शाहबाज़ की कवर स्टोरी

नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ जनांदोलन का प्रमुख चेहरा रही मशहूर ‘बिलकिस दादी’ को TIME मैगज़ीन ने विश्व के 100 सबसे प्रभावशाली लोगों की सूचि में शामिल कर लिया है. इस लिस्ट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प जैसे नाम भी शामिल है.

टाइम मैगज़ीन (TIME Magazine) ने 82 वर्षीय बिलकिस को आइकॉन करार दिया है. बिलकिस ने दिल्ली के शाहीन बाग़ में CAA (Citizenship Amendment Act) के खिलाफ प्रदर्शन में प्रेरणाश्रोत बनकर उभरी थी.

खाकी में लिपटे संघी आईपीएस को नौकरी से बर्खास्त किया जाना चाहिए

बता दें कि विश्वभर में प्रसिद्द टाइम मैगज़ीन (TIME Magazine) ने आज विश्व के 100 सबसे प्रभावशाली लोगों की लिस्ट जारी की है. 82 वर्षीय बिलकिस को आइकॉन केटेगरी में यह उपलब्धि हासिल हुई. इस केटेगरी में उनके साथ दुनिया भर के कई बड़ी हस्तियों के नाम है. जैसे अमेरिका की नर्स एमी सुलिवान (Amy O’Sullivan) जिन्होंने अपनी जान पर खेलकर कोरोना मरीज़ो के लिए काम किया और अमेरिका की ही महिला फुटबॉलर मेगन रपिनोए (Megan Rapinoe) जिन्होंने लैंगिक समानता (Gender Equality) के लिए आवाज़ उठायी थी.

बिलकिस उन लाखो उन हजारों प्रदर्शनकर्ताओं में से एक थीं जो दिल्‍ली के शाहीन बाग में नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) के खिलाफ महीनों बैठी रहीं। उन्होंने शुरू से अंत तक इस क़ानून के खिलाफ आवाज़ उठायी थी. उन्होंने कहा था कि “जब तक रगों में खून बह रहा है, तब तक यहीं बैठी रहूंगी”. टाइम मैगजीन की तरफ से लिस्‍ट जारी होने के बाद ट्विटर पर ‘शाहीन बाग’ ट्रेंड करने लगा। यूजर्स ने लिखा कि इस उम्र में बिलकिस के संघर्ष का जज्‍बा काबिलेतारीफ है।

मशहूर पत्रकार राणा अय्यूब (Rana Ayyub) ने ट्वीट कर कहा कि एक 82 वर्षीय मुस्लिम महिला, बिलकिस, जो भारत में नरेंद्र मोदी की प्रमुखता के खिलाफ विरोध का चेहरा बन गई, वह टाइम की 100 सबसे प्रभावशाली लोगो में से है। मैं सम्मानित महसूस कर रही हूं कि मुझे उनके बारे में लिखने के लिए कहा गया है। उन्हें और अधिक शक्ति”. उन्होंने यह भी कहा कि ‘बिलकिस को मशहूर होना चाहिए ताकि दुनिया तानाशाही के खिलाफ संघर्ष की ताकत का एहसास करे।’

DGP गुप्तेश्वर पांडेय का इस्तीफा गैर कानूनी, अदालत में चुनौती की तयारी

बिलकिस के विश्व के 100 सबसे प्रभावशाली लोगों की सूचि में जगह मिलते ही बधाईओं का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है. कांग्रेस नेता सलमान निजामी ने बिलकिस को बधाई देते हुए एक तस्‍वीर ट्वीट की। ‘दादी जी रॉकिंग।’ और ‘हमारे देश की दादी किसी से कम हैं क्‍या’ जैसे सम्मानजनक शब्दों के साथ उनकी हौसला अफ़ज़ाई की जा रही है.

कोरोना वायरस के कारण रुक गया CAA के खिलाफ प्रदर्शन

नागरिकता संशोधन कानून और एनआरसी (National Register of Citizens) के खिलाफ दिल्ली के शाहीन बाग में सामाजिक कार्यकर्ताओं से लेकर स्‍थानीय लोगों ने लंबे वक्‍त तक प्रदर्शन किया था। जब भारत में कोरोना वायरस के केस बढ़ने लगे तो ऐहतियातन दिल्ली पुलिस ने शाहीन बाग में प्रदर्शन स्थल को खाली करवा दिया था।

नागरिकता संशोधन कानून के तहत बांग्लादेश अफगानिस्तान, पाकिस्तान से आये हिंदू सिख बौद्ध, जैन और ईसाई धर्म के प्रवासियों के लिए नागरिकता के नियम को आसान बनाया गया है। केंद्र सरकार ने इस कानून को बार बार सफाई दीथी कि यह कानून नागरिकता देने के लिए है न कि लेने के लिए। वहीं, प्रदर्शनकारियों का तर्क था कि यह कानून मुस्लिमों की नागरिकता छीनने के मकसद से लाया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*