तीन तलाक की पीडि़त महिलाओं के बारे में सोंचे सोनिया

तीन तलाक विधेयक पर सत्ता पक्ष और विपक्ष में चल रही खींचतान के बीच केन्द्रीय विधि एवं न्याय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी से अपील की है कि वे महिला होने के नाते तीन तलाक की पीडि़त महिलाओं की स्थिति के बारे में कुछ सोचें।

श्री प्रसाद ने आज यहां पत्रकारों के साथ बातचीत में एक सवाल के जवाब में कहा कि विपक्षी दलों के नेताओं को तीन तलाक से पीडि़त महिलाओं के बारे में सोचना चाहिए। उन्होंने कहा कि सरकार ने तीन तलाक से संबंधित विधेयक में कई सुधार किये हैं और वह आगे भी विपक्ष के सुझावों का इंतजार कर रही है। विपक्ष ने विधेयक में सुधार के लिए लोकसभा में कोई सार्थक सुझाव नहीं दिया था। उनके पास यदि कोई सार्थक सुझाव है तो हम उस पर विचार करने के लिए तैयार है।

यह पूछे जाने पर कि जब विपक्ष के अधिकतर सदस्य इस विधेयक को प्रवर समिति में भेजने की मांग कर रहे हैं तो सरकार इस मांग को क्यों नहीं स्वीकार कर रही है श्री प्रसाद ने कहा कि प्रवर समिति महत्वपूर्ण मंच है लेकिन पीडि़त महिलाओं की दयनीय स्थिति भी महत्वपूर्ण मुद्दा है।

कानून मंत्री ने कहा ,“ कांग्रेस का शाह बानो से शायरा बानो तक यही रूख रहा है।” ज्ञातव्य है कि शायरा बानो ने ही तीन तलाक को लेकर अदालत में याचिका दायर की थी।

श्री प्रसाद ने कहा कि वह कांग्रेस नेता सोनिया गांधी से अपील करते हैं कि महिला होने के नाते वह तीन तलाक से पीड़ित महिलाओं की स्थिति के बारे में कुछ सोचें। उल्लेखनीय है कि कांग्रेस समेत अधिकतर विपक्षी दल इस विधेयक को प्रवर समिति के पास भेजने की मांग कर रहे हैं। सरकार ने तीन तलाक विधेयक हंगामे और विपक्ष के वाकआउट के बीच लोकसभा में पारित करा लिया लेकिन राज्यसभा में वह विपक्ष के हंगामे के कारण अब तक इसे पेश नहीं कर सकी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*