तीन दिन गांवों में भ्रमण करेंगे प्रशासनिक अधिकारी

मुख्य सचिव दीपक कुमार ने राज्य की प्रशासनिक व्यवस्था को सुदृढ़ एवं संवेदनशील बनाने के उद्देश्य से निर्देश देते हुये कहा कि पदाधिकारियों को सप्ताह में तीन दिन मुख्यालय में रहकर काम करने के साथ ही उन्हें प्रत्येक शुक्रवार को आम लोगों से मिलना होगा।

श्री कुमार ने राज्य की प्रशासनिक व्यवस्था को सुदृढ एवं संवेदनशील बनान की दिशा में कई महत्वपूर्ण निर्देश सभी विभागों के प्रधान सचिव, सचिव, पुलिस महानिदेशक, प्रमंडलीय आयुक्त, पुलिस महानिरीक्षक, पुलिस उप महानिरीक्षक, जिला पदाधिकारी, वरीय पुलिस अधीक्षक सहित सभी पुलिस अधीक्षकों के लिए जारी किये हैं।
मुख्य सचिव ने कहा कि सरकार के महत्वपूर्ण कार्यक्रमों को त्वरित एवं प्रभावी ढंग से लागू करने, इनके सतत अनुश्रवण और राज्य में न्याय के साथ विकास तथा प्रशासन को और अधिक संवेदनशील बनाने के उद्देश्य से कई महत्पूर्ण निर्णय लिये गए हैं। इसके अनुसार राज्य मुख्यालय स्तर पर प्रत्येक सोमवार, मंगलवार एवं शुक्रवार को पदाधिकारी मुख्यालय में उपस्थित रह कर कार्य करेंगे, शुक्रवार को पदाधिकारियों के द्वारा आम लोगों से मिलने का समय रखा जाएगा, मुख्यालय स्तर पर बैठकों और वीडियो कान्फ्रेंसिंग का समय इन तीन दिनों में ही रखा जाएगा तथा सप्ताह के शेष दिनों में प्रधान सचिव एवं सचिव क्षेत्र भ्रमण पर रहते हुए विभागीय कार्यों का निरीक्षण एवं समीक्षा करेंगे।

 

 

श्री कुमार ने कहा कि राज्य में विभागीय प्रधान सचिवों एवं सचिवों को जिलों के प्रभारी प्रधान सचिव और सचिव का दायित्व पहले ही सौंपा जा चुका है। इसलिए, पूर्व के निर्देशों के आलोक में उनके द्वारा महीने में कम से कम एक बार आवंटित जिलों का भ्रमण अवश्य किया जाना है। उन्होंने कहा कि क्षेत्रीय प्रमंडल, जिला, अनुमंडल के साथ ही प्रखंड, अंचल, एवं थाना स्तर के पदाधिकारी भी इन प्रावधानों के अनुसार कार्रवाई करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*