तेजस्‍वी ने केंद्र पर संयुक्‍त सचिव के महत्‍वपूर्ण पदों पर मनपसंद लोगों की नियुक्ति का लगाया आरोप

 

बिहार के पूर्व उपमुख्‍यमंत्री व राजद नेता तेजस्‍वी यादव ने एक बार फिर से केंद्र की एनडीए सरकार पर हमला बोला है. उन्‍होंने ट्विटर पर एक पत्र संलग्‍न करते हुए लिखा है कि यह मनुवादी सरकार UPSC को दरकिनार कर बिना परीक्षा के नीतिगत व संयुक्त सचिव के महत्वपूर्ण पदों पर मनपसंद व्यक्तियों को कैसे नियुक्त कर सकती है ?

नौकरशाही डेस्‍क

तेजस्‍वी यादव ने इसे संविधान और आरक्षण का घोर उल्लंघन बताया और कहा कि कल को ये बिना चुनाव के प्रधानमंत्री और कैबिनेट बना लेंगे. इन्होंने संविधान का मजाक बना दिया है. गौरतलब है कि भारत सरकार ने संयुक्‍त सचिव के स्‍तर पर नियुक्ति के लिए एक पत्र जारी किया है, जिसमें रेवेन्‍यू, फाइनेंसियल सर्विस, इकॉनोमिक अफेयर्स, कृषि, रोड ट्रांसपोर्ट, शिपिंग, वातावरण, जंगल व क्‍लाइमेट चेंज, न्‍यू एंड रेनुएबल इनर्जी, सिविल एविऐशन और कॉमर्स के क्षेत्र में न्‍यूनतम 40 साल की आयु के उम्‍मीदवार इस पद के लिए एलिजबल होंगे और उनकी न्‍यूनतम शिक्षा ग्रजुएशन. इसके अलावा उनको  सरकारी और प्राइवट स्‍तर की कंपनी में 15 साल का अनुभव होना आवश्‍यक है. पत्र में भारत सरकार की वेब साइट का lateral.nic.in भी जिक्र है.

About Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*