….तो क्या इस बार बरसात के पानी से बच जायेगा पटना?

-पटना के कमिशनर आनंद किशोर ने बादशाही पईन को पुर्नस्थापित करने तथा इस माॅनसून पटना में जल जमाव की समस्या से निजात दिलाने के उद्देश्य से किये जा रहे कार्यों की प्रगति की समीक्षा, चमनचक से नन्दलाल छपरा के बीच जुड़ेगा बादशाही पईन
पटना.

पटना के कमिशनर आनंद किशोर ने माॅनसून में जल जमाव की समस्या से निजात दिलाने के उद्देश्य से की समीक्षा

..तो क्या इस मानसून पटना जलजमाव से बच कर रह पायेगा? क्या जल जमाव की समस्या को खत्म करने के लिए प्रशासन तैयार है. इन सवालों के पहले प्रशासन कई दावे कर रहा है. पटना के कमिश्नर ने कहा है कि जलजमाव नहीं हो इसके लिए खास निर्देश दिये गये हैं. महत्वपूर्ण नालों की उड़ाही के साथ साथ बादशाही पईन को चमन चक से नंदलाल छपरा के बीच जोड़कर फिर से स्थापित किया जायेगा. चमन चक सेे नन्दलाल छपरा में बीच कटाई के लिए चिह्नित स्थलों पर चार स्थानों में सड़क है. नाला कटाई के बाद एनएचएआइ के गार्डर के माध्यम से रास्तो को चालू किया जायेगा. 9 जून से कटाई का काम शुरू होगा. इस क्रम में विधि व्यवस्था के लिए दो मजिस्ट्रेट के साथ पुलिस फोर्स भी रहेंगे. कमिश्नर आनंद किशोर की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में यह फैसला किया गया.
समीक्षा में यह बात प्रकाश में आयी कि एनएचएआई के द्वारा निर्माण किये जा रहे नाला की चौेड़ाई मीठापुर से नंदलाल छपरा की ओर बेहतर है जबकि बेउर से मीठापुर की ओर नाला की चौेड़ाई काफी कम है. नगर आयुक्त ने बताया कि बेउर से मीठापुर के बीच निर्माणाधीन नाला की चौेड़ाई बढ़ाया जाना बहुत जरूरी है ताकि जल प्रवाह समुचित रूप से हो सके. इसके बाद कमिश्नर ने बेउर से मीठापुर तक निर्माणाधीन नाला का निर्माण पर तत्काल रोक लगाने का निर्देश एनएचएआई के पदाधिकारी को दिया. भूतनाथ रोड में नन्दलाल छपरा के पास एनएच के पास एक मंदिर है. आयुक्त ने अधिकारियों को आठ जून को स्थल निरीक्षण करते हुए मंदिर का शीघ्र विस्थापन सुनिश्चित कराने का निदेश दिया गया ताकि उड़ाही समय से पूरा किया जा सके. इस पर हाईटेंशन वायर के बिजली के खम्भों को सुदृढ़ करने की कार्रवाई भी कराने के लिए कहा गया है. नगर आयुक्त जय सिंह ने बताया कि बेउर से मीठापुर ओवर ब्रीज तक नाला उड़ाही का कार्य अत्यंत महत्वपूर्ण है. कार्यपालक अभियंता जल संसाधन विभाग, अनिसाबाद द्वारा बताया गया कि बादशाई पईन के उड़ाही का कार्य प्रारंभ कर दिया गया है. लेकिन कई स्थानों पर स्थानीय लोगों के द्वारा पुन: गंदगी कर दी जा रही है। आयुक्त ने ऐसे मामलों में पेनाल्टी लगाने के साथ साथ संबंधित के विरूद्ध एफआइआर करने का निर्देश दिया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*