दरभंगा एसएसपी को व्हाट्स ऐप पर एक दिन में मिले 500 मैसेज

दरभंगा के नये एसएसपी मनु महाराज द्वारा व्हाट्स ऐप पर अपना नम्बर सार्वजनिक करने के एक दिन में ही 500 से ज्यादा मैसेज प्राप्त हुए हैं. महाराज ने लोगों की सहायता के लिए यह नम्बर सार्वजनिक किया है.

मनु महाराज

मनु महाराज

 

एसएसपी ने जनहित में व्हाट्स ऐप के लिए अपना एक नंबर 9771977977 गुरुवार को जारी किया. नेट और क्म्प्युटर इस्तेमाल के बढ़ते चलन से उत्साहित मनु महाराज ने फेसबुक और व्हाट्स ऐप के जरिये खुद को आम लोगों से जोड़ा है. इसके लिए एक मेल आईडी भी बनायी गयी है.

मनु महाराज ने नौकरशाही डॉट इन को बताया कि हमारी उम्मीदों से ज्याद रिस्पांस मिला है. हम उम्मीद करते हैं कि लोग आवश्यक जानकारी और क्राइम से जुड़ी तस्वीरें लोग हमें भेजेंगे. उन्होंने कहा कि पुलिस को जानकारी और सूचना की बुनियाद पर काम करने में आसानी होती है.

उन्होंने कहा कि हमें मिले रिस्पांस के बाद हमने एक तकनीकी सेल गठित की है. इसमें तीन-चार लोगों को लगाया गया है. हमें वहां से आवश्यक और अरजेंट सूचना मिलेंगी और हम उसी के अनुरूप कार्रवाई करेंगे.

यह भी पढ़ें- कैसे भेस बदल के पहुंचे मनु महाराज

इसके अलावा एसएसपी तक अपनी समस्या पहुंचाने के लिए एक ईमेल आईडी police.darbhanga@gmail.com  भी बनाया गया है.

मनु महाराज इससे पहले पटना के एसएसपी रह चुके हैं. 3 अक्टूबर को पटना के गांदी मैदान में रावन दहन के दौरान भगदड़ में 33 लोगों की मौत के बाद राज्य सरकार ने मनु महाराज को वहां से हटा दिया. और उसके कुछ दिन बाद उन्हें दरभंगा का एसएसपी बनाया गया है.

यह संयोग ही कि जिस दिन मनु महाराज ने सोशल मीडिया के जरिये आम लोगों से जुड़ने की घोषणा की उसी दिन गांदी मैदान हादसे की जांच रिपोर्ट सरकार को सौंपी गयी. मीडिया खबरों के अनुसार इस जांच रिपोर्ट में पटना के तत्कालीन डीएम, एएसपी और कमिशनर की लापरवाही उजागर हुई है. ऐसे में इन अफसरों के खिलाफ कार्रवाई संभावित है. इस कार्रवाई की गाज मनु महाराज पर भी गिर सकता है. हालांकि इस बारे में एसएसपी ने कहा कि रावन दहन के दौरान हुए हदसे की जांच रिपोर्ट की जानकारी उन्हें नहीं है. रिपोर्ट देखने के बाद ही वह इस बारे में कुछ बता सकते हैं.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*