दिनभर चला आरजेडी जेडीयू के बीच बयानों के तीर, लालू से मिलने के बाद बैकफुट पर आये भाई विरेंद्र

-विधायक भाई वीरेंद्र ने कहा, नीतीश हमारे नेता, बड़े भाई के रोल में आरजेडी, इसके पहले राजद पर जदयू प्रवक्ताओं का हमला, रघुवंश प्रसाद सिंह व भाई वीरेंद्र पर हो कार्रवाई
पटना़

लालू से मिलने के बाद बैकफुट पर आये भाई विरेंद्र

राजद प्रमुख लालू प्रसाद आवास से निकलने के बाद सोमवार को राजद विधायक भाई वीरेंद्र के सुर बदल गये. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार महागठबंधन के नेता है. महागठबंधन में राजद बड़े भाई के रोल में है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर सीधा हमला करनेवाले भाई वीरेंद्र ने कहा कि बीजेपी को लार टपक रहा है. उनको लगता है कि महागठबंधन में रार है. उनके नेता नीतीश कुमार हैं. महागठबंधन टूटनेवाला नहीं है. हिमालय की तरह मजबूत हैं. बीजेपी दुष्प्रचार कर रहा है. बीजेपी भगाओ देश बचाओ का नारा दिया जा रहा है. हालांकि उन्होंने इस बात से इनकार किया कि उनको यहां तलब किया गया है. यह स्वीकार किया कि राष्ट्रीय अध्यक्ष ने बयानबाजी से बचने की नसीहत दी है. भाई वीरेंद्र ने कहा कि ईद के मौके पर और अगस्त में होनेवाली रैली को लेकर कुछ चुने हुए नेताओं को राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद ने बुलाया था. अगस्त में होनेवाली रैली की तैयारी की जा रही है.
महागठबंधन की उम्र घटाने का नहीं करें प्रयास : केसी त्यागी
जदयू के राष्ट्रीय प्रवक्ता से लेकर प्रदेश के प्रवक्ताओं ने राजद पर चौतरफा हमला बोला है. जदयू के प्रवक्ता राजद नेता रघुवंश प्रसाद सिंह व विधायक भाई वीरेंद्र पर कार्रवाई की मांग पर अड़े हैं. साथ ही राजद को दो टूक में यह भी कह दिया है कि महागठबंधन की उम्र घटाने का प्रयास न करें. जदयू के राष्ट्रीय महासचिव सह राष्ट्रीय प्रवक्ता केसी त्यागी ने कहा कि जनता ने जिन आदर्शों व कार्यक्रमों के लिए महागठबंधन को जिताया था, उसकी उम्र घटाने का कोई प्रयास न करें. जदयू महागठबंधन की मां है, दाई नहीं है. महागठबंधन पांच साल के लिए हुआ है, लेकिन इसमें अभी काफी समय बचा है. राजद नेताओं की गलत बयानी जदयू बर्दाश्त नहीं करेगा. इस तरह की बयानबाजी से गठबंधन की उम्र कम हो सकती है. राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद पार्टी नेता रघुवंश प्रसाद सिंह व भाई वीरेंद्र पर कड़ी कार्रवाई करें.
केवल सफाई न दें, कार्रवाई करे राजद : संजय सिंह
जदयू के मुख्य प्रवक्ता व विधान पार्षद संजय सिंह ने मुख्यमंत्री नीतीश के खिलाफ बयान देने वाले नेताओं को राजद से बाहर निकालने की मांग की है. उन्होंने कहा कि केवल सफाई देने से काम नहीं चलेगा. राजद अपनी पार्टी के नेता रघुवंश प्रसाद सिंह अौर भाई वीरेंद्र को अविलंब निकालने की समय सीमा तय करे. जदयू पहले भी यह मांग कर चुका है, लेकिन राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद ने उन पर कोई कार्रवाई नहीं की है. वहीं, जदयू प्रवक्ता राजीव रंजन प्रसाद ने कहा कि महागठबंधन को नीतीश कुमार की करिश्माई छवि से ही जीत मिली थी. नीतीश कुमार ने ही बिहार में भाजपा को रोका. साथ ही सत्ता वापसी के लिए राजद को नीतीश कुमार ने ही सहारा दिया. लक्ष्मण रेखा पार करने वाले राजद के नेताओं को जदयू बरदाश्त नहीं करेगा.
सच का एहसास करें राजद, नहीं तो होगा आत्मघाती कदम : नीरज
जदयू प्रवक्ता सह विधान पार्षद नीरज कुमार ने कहा कि जदयू ने राजद की राजनीतिक प्राणरक्षा की है. बिहार विधानसभा चुनाव में जदयू ने ही राजद को जीत की जड़ी बूटी दिलायी थी. राजद के नेता इस सच का एहसास करें, नहीं तो उनके लिए यह आत्मघाती कदम होगा. वहीं, जदयू प्रवक्ता डॉ अजय आलोक ने कहा कि राजद ने अपने प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वे से बदतमीजी करने वाले सनोज यादव पर कार्रवाई की है तो मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का अपमान करने वाले नेताओं पर क्यों नहीं कार्रवाई कर रही है. राजद के बड़बोले नेताओं पर जब तक कार्रवाई नहीं होती तब तक यह आग नहीं थमेगी. गरमी में यह आग और तेजी से फैलेगी.

About Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*