दिल्ली पुलिस ने जेएनयू विवाद की रिपोर्ट राजनाथ को सौंपी

जवाहरलाल नेहरु विश्विद्यालय में देश विरोधी नारे लगाए जाने की घटना से संबधित जांच रिपोर्ट दिल्ली पुलिस द्वारा गृहमंत्रालय को सौंपे जाने की खबर है।  दिल्ली पुलिस आयुक्त बी एस बस्सी ने गृहमंत्री राजनाथ सिंह से आज मुलाकात कर उन्हें यह रिपोर्ट सौंपी है।aaa

 

 

ऐसा माना जा रहा है कि इस रिपोर्ट में पुलिस ने कहा है कि जेनएयू में 9 फरवरी को जो कार्यक्रम आयोजित किया गया था, उसमें 90 छात्रों के एक समूह की अगुवाई छात्र संघ नेता कन्हैया ने ही की थी। इसी कार्यक्रम में देश विरोधी नारे लगाए गए थे। रिपोर्ट में इसके लिए 14 अन्य छात्रों को भी आरोपी ठहराया गया है, जिनमें से सात को आज पूछताछ के लिए हिरासत में लिए जाने की खबर है। हालांकि पुलिस की ओर से अभी इसकी पुष्टि नहीं की गई है।

 
मंगलवार की घटना के बाद पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए जेनएयू के उपकुलपति को एक पत्र भेजा था, जिनमें उनसे छात्र संघ के नेता कन्हैया के अलावा पांच और छात्र, उमर खालिद, आशुतोष कुमार, अनिरबन भट्टाचार्य, रामा नागा और अानंद प्रकाश को राष्ट्रविरोधी गतिविधियों में शामिल होने के आरोप में पुलिस के समक्ष पेश करने को कहा गया था। इनमें से एक कन्हैया को पुलिस ने कार्यक्रम की वीडियो क्लिप पर संज्ञान लेते हुए शुक्रवार को ही गिरफ्तार कर लिया था।  इस बीच केन्द्रीय गृहराज्य मंत्री किरण रिजिजू ने जेएनयू में हुई घटना को बेहद दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए आज कहा कि जो वहां देश विरोधी नारे लगा रहे थे वे कोई बच्चे नहीं थे जिन्हें यह नहीं पता था कि वह क्या कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*