देश का यह प्रभावशाली नौकरशाह दम्पति छुट्टी पर क्यों है

देश के सबसे ताकतवर नौकरशाह दम्पतियों में से एक, ऐसे समय में जब चुनाव सर पे है छुट्टी पर क्यों चला गया है. पति नागालैंड के मुख्यसचिव जबकि पत्नी राज्य की अतिरक्त मुख्य सचिव हैं और चुनाव सर पर हैं.

राज्य में 23 फरवरी को विधानसभा चुनाव हो रहा है.नौकरशाही तंत्र के लिए यह सबसे चुनौतियों भरा समय होता है लेकिन अलमेतमसी जमीर व बानो जमीर ने एक साथ छुट्टी ले ली है.उत्तरपूर्व की नौकरशाही में यह चर्चा गर्म तो है पर इसके अर्थ साकारात्मक लिये जा रहे हैं.

अलेमतेमशी जमी: छुट्टी पर रहे या काम पर क्या फर्क पड़ता

कुछ लोगों का कहना है कि जमीर दमपति का छुट्टी पर चला जाना उनकी सूझ-बूझ को दर्शाता है क्योंकि उन पर यह आरोप न लगे कि वे अपने बेटे मेरेनतोशी के पक्ष में अपने प्रभाव का इस्तेमाल कर रहे हैं. इस नौकरशाह दम्पति का बेटा मेरेनतोशी सत्ताधारी नागा पीपुल्स फ्रंट के टिकट पर चुनाव मैदान में डटे हैं.

जब स्थानीय मीडिया को जमीर दम्पति के छुट्टी पर जाने की खबर हाथ लगी तो पत्रकारों की भीड़ उनके घर पहुंच गई. जमीर ने कहा, “हम यह नहीं चाहते कि मतदाता और राजनीतिक पार्टियों को यह संदेश जाये कि हम अपने बेटे के पक्ष में अपने प्रभाव का इस्तेमाल कर रहे हैं. इसलिए हम लोगों ने पिछले शुक्रवार से लेकर चुनाव खत्म होने तक छुट्टी ले रखी है”.

जमीर दम्पति 1977 बैच का आईएएस हैं.और खास बात यह है कि नागालैंड में इस दम्पति की न सिर्फ, बतौर नौकरशाह पहचान है बल्कि इनके सामाजिक रसूख भी काफी हैं. इस दम्पति की एक और खास बात यह है कि सबसे महत्वपूर्ण पद पर रहने के कारण इनकी नौकरशाही पर गिरफ्त भी काफी मजबूत है.

हालांकि कुछ विरोधियों का कहना है कि, इस बात से फर्क नहीं पड़ता कि जमीर दम्पति छुट्टी पर है या काम पर. सरकारी मशीनरी का एक हिस्सा इनके लिए फिर भी सहानुभूति रखता है.
32 वर्षी मेरनतोशी चुनाव मैदान में डटे हैं और वह अपनी पूरी ताकत लगा रहे हैं.

वह नागा युवाओं को प्रभावित करने की कोशिश कर रहे हैं. मेरनतोशी की टक्कड़ पूर्व मंत्री नागांसी आव से है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*