‘देश में शांति के लिए आरएसएस पर प्रतिबंध लगाना जरूरी’

जनता दल राष्ट्रवादी के राष्ट्रीय संयोजक अशफाक रहमान ने कहा है कि आरएसएस ने पूरे देश में अफरातफरी मचा रखी है और देश को फासिस्ट ताकतों ने अपने शिकंजने में ले लिया है.ashfaq

उन्होंने कहा कि कोर्ट परिसर में हमला हो रहा है और पत्रकारों पर वंदे मातृम कहने का दबाव बनाया जा रहा है. उन्होंने कहा कि गोडसे के पुजारी देशभक्ति का सर्टिफिकेट मांग रहे हैं और कम्युनिस्ट समेत तमाम पार्टियां डरी सहमी हैं. लेकिन आश्चर्य है कि कोई भी पार्टी संघ पर प्रतिबंध लगाने की मांग नहीं कर रही हैं. अशफाक रहमान ने कहा कि जब तक आरएसएस पर प्रतिबंध नहीं लगाया जाता तब तक देश में शांति की उम्मीद नहीं की जा सकती.

रहमान ने आरोप लगाया कि सेक्युलरिज्म के नाम पर चुनाव जीतने वाली पार्टियां नहीं चाहतीं कि आरएसएस पर प्रतिबंध लगे क्योंकि वे आरएसएस के वजूद के कारण ही चुनाव जीतती हैं. उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस ने तो सबसे ज्यादा आरएसएस को दूध पिलाया है.

उन्होंने कहा कि देश भर अशांति का माहौल है और ऐसे में संघ प्रमुख मोहन भागवत बिहार दौरा पर आ रहे हैं.उनकी यात्रा से राज्य में माहौल और गंदा होगा. रहमान ने लालू प्रसाद और नीतीश कुमार को चुनौती दी कि अगर वे सच्चे सेक्युलर हैं तो भागवत की बिहार यात्रा पर प्रतिबंध लगायें.

One comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*