दोहरा हत्याकांड: पुलिस की भूमिका पर संदेह

बक्सर में भूमि विवाद में हुई गोलीबारी में दोनों पक्षों के मुखिया की मौत के बाद आरोप है कि पुलिस की आंखों के सामने गोलीबारी हुई और पुलिस देखती रही जबकि पुलिस इस आरोप से इनकार कर रही है.

सांकेतिक फोटो

सांकेतिक फोटो

बबलू उपाध्याय ,बक्सर से

बक्सर के राजपुर थाना क्षेत्र के बहुआरा गांव में जमीन विवाद में दो पक्षो में हुयी गोलीबारी में हुए दोहरा हत्या कांड ने पूलिस की कार्यशैली पर सवाल खड़े कर दिए है। घटना में मृतक वदन सिंह के परिजनों ने पूलिस पर आरोप लगाया है की विवाद की जानकारी मिलने के बाद मौके पर पहुची राजपुर पूलिस के सामने गोलीबारी की घटना हुयी लेकिन उस वक्त फौरी तौर पर पूलिस ने कोई कार्रवाई नही की।

बताते चले की बहुआरा निवासी मृतक वदन सिंह और पुरैनी निवासी मृतक गोपाल ठाकुर के बिच पिछले कई वर्षो से भूमि विवाद चल रहा था और इस मामले की जानकारी पुलिस को बखूबी थी।

पुलिस पहले भी इस मामले में दोनों पक्षो को समझाने बुझाने का काम कर चुकी है। इधर इस मामले में बक्सर एसडीपीओ सुनील कुमार ने बताया कि मामले की जानकारी मिलने पर मौके पर पूलिस पहुच गयी थी लेकिन तब तक गोलीबारी में दोनों  पक्ष के लोगों की मौत हो चुकी थी। अब इस पूरे मामले में हैरान करनेवाली बात ये है की सच कौन बोल रहा है पुलिस या मृतक के परिजन।

बहरहाल ये तो जाँच का विषय है पर इतना जरूर है कि न तो पूलिस मामले से अनजान थी और ना ही मृतक पक्ष।

इधर इस घटना में मृतक रिटायर फौजी गोपाल ठाकुर का लाइसेंसी रेवोल्बर भी गायब है जिसके सम्बद्ध में मृतक के बेटे ने दूसरे पक्ष पर ले भागने का आरोप लगाया है पर इस मामले में भी पूलिस अपना पल्ला झाड जाँच की बात कह रही है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*