‘नरेंद्र मोदी नामक व्यक्ति ऊपर से नीचे तक अहंकार में डूबा हुआ चोर है: शिवानंद तिवारी

‘नरेंद्र मोदी नामक व्यक्ति ऊपर से नीचे तक अहंकार में डूबा हुआ चोर है जो सभी संस्थाओं का दमन कर रहा है’. यह आक्रामक बयान राजद नेता शिवानंद तिवारी ने दिया है.

Narendra Modi

शिवानंद तिवारी ने कहा ऊपर से नीचे तक मोदी नाम का यह व्यक्ति अहंकार में डूबा है

राष्ट्रीय जनता दल के वरिष्ठ नेता व पूर्व मंत्री शिवानंद तिवारी ने पीएम नरेंदे मोदी को न सिर्फ अहंकारी बताया बल्कि यहां तक कह दिया कि यह व्यक्ति चोर है जिसकी गवाही फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति ओलांदो के बयान से हो जाता है.
 शिवानंद तिवारी ने कहा कि  ‘गली-गली में शोर है-नरेंद्र मोदी चोर है’ राहुल गांधी के इस नारे पर अरूण जेटली ख़ूब भभके थे. लेकिन नरेंद्र मोदी चोर हैं इसकी गवाही तो अब फ़्रांस के भूपू राष्ट्रपति दे रहे हैं. ओलंदो वही हैं जिनके समय राफ़ेल का सौदा हुआ था.
नरेंद्र मोदी की सरकार हर मोर्चे पर फ़ेल रही है. साबित हो चुका है कि अच्छे दिन का बाइस्कोप दिखाकर, देश की जनता को ठग कर यह सरकार सत्ता पर क़ाबिज़ हुई है. देश का इसने बहुत नुक़सान पहुँचाया है. इनकी नीतियों की वजह से समाज में बिखराव का माहौल बन गया है. ऊपर से नीचे तक अहंकार में डूबा हुआ यह आदमी देश के सभी लोकतांत्रिक संस्थाओं का दमन कर रहा है.
तिवारी के इस बयान से हंगामा होने की संभावना है.
आक्रामक तिवारी ने यहां तक कहा कि नरेंद्र मोदी  एक ही पूँजी पर ये ताल ठोक रहे थे. हम पर या हमारी सरकार पर भ्रष्टाचार का कोई आरोप नहीं लगा है. अब तो पराए देश का राष्ट्रपति इनके सदाचार की गवाही दे रहा है.
 तिवारी यहीं नहीं रुके. उन्होंने कहा कि  प्रधानमंत्री बनने के बाद यह आदमी दुनिया भर में घूमता रहा है. न जाने कितने सौदे किए हैं. उनमें क्या-क्या गुल इन्होंने खिलाया है यह तो भविष्य के लिए जाँच का विषय है. फ़िलहाल तो इनको सत्ता से बेदख़ल करना राष्ट्रीय दायित्व बन गया है.

क्या कहा था ओलांद ने

गौरतलब है कि शिवानंद तिवारी का यह मुखर बयान ऐसे समय में आया है जब पिछले दिनों फ्रांस के एक अखबार ने वहां के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांसुआ ओलांद को यह कहते हुए कोट किया था जिसमें उन्होंने कहा था कि राफायल लड़ाकू विमान के सौदा के समय रिलायंस समुह की कम्पनी रिलायंस डिफेंस को पार्टनर बनाने के सिवा उनकी सरकार के पास कोई दूसरा विकल्प नहीं था क्योंकि इस कम्पनी के अलावा किसी अन्य कम्पनी के नाम का प्रस्ताव भारत सरकार ने किया ही नहीं था.
याद रहे कि कांग्रेस का आरोप है कि मोदी सरकार ने 520 करोड़ के विमान को 1600 करोड़ रुपये में खरीदा और इसमें बड़े पैमाने पर दलाली हुई. कांग्रेस बार बार मोदी सरकार से पूछ रही है कि वह इस मामले की तमाम जानकारी क देश के सामने रखे लेकिन मोदी सरकार इस पर  लगातार चुप है.
उधर भाजपा के ही वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा ने इस मामले पर ट्विट कर कहा है कि हम एक ऐसी सरकार को कैसे बर्दाश्त कर सकते हैं जो झूठ पर झूठ बोल रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*