नीतीश पर तेजस्वी के हमले का जदयू ने दिया जवाब, लालू को कहा घोटालाराम

तेजस्वी यादव द्वारा नीतीश कुमार को संसरा का सबसे बड़ा राजनीतिक भ्रष्टाचारी कहे जाने पर जदयू ने जोरदार जवाब देते हुए लालू प्रसाद को घोटालाराम कहा है और घोटालों की लम्बी फेहरिस्त जारी करते हुए पूछा है कि वह 15 हजार करोड़ के मालिक कैसे बन गये.
 जदयू के प्रवक्ता संजय सिंह ने कहा कि  बड़ी शिद्दत से लालू यादव यानी ‘घोटालाराम’ भागलपुर में गए थे सृजन रैली क रने , लेकिन वहां की जनता ने ठेंगा दिखा दिया । लालू यादव तो बहुत देर तक शर्म के मारे मंच पर आए तक नहीं । लेकिन जब बहुत देर हो गई तो वो अपना सा मुंह लेकर मंच पर आए । जहां रैली हो रही थी वहां आम लोगों से ज्यादा पुलिसकर्मी और मीडिया के लोग थे । लालू यादव को अब समझ लेना चाहिए कि उनका दौर खत्म हो चुका है । अब लालू यादव को लोग सुनना नहीं चाहते है और उनके पुत्रो को तो देखना भी नहीं चाहते है ।

संजय ने एक लम्बा पोस्ट फेसबुक पर लिखा है और कहा कि  लालू यादव से उम्मीद थी वो अपने बारे में भी लोगो के सामने बताते । वो बताते कि 15 हजार करोड़ की सम्पति कैसे अर्जित की । वो बताते कि उन्होंने किस तरह से घोटाले किये । लालू यादव को ये बताना चाहिए कि उन्होंने किस तरह से लोगो से जमीं लिखवाये ।

 संजया सिंह ने कहा कि  सजायाफ्ता लालू यादव की राजनीति तो खत्म हो ही गई है । अब तेजस्वी यादव की राजनीति भी डर के साए में ही गुजरेगी । जिस तरह से लालू यादव ने अपने बच्चों से कुकर्म करवाएं है अब उनके बच्चे कभी सुखी नहीं रह पाएंगे । हर वक्त उन्हें ये डर सतायेगा कि कही उन्हें जेल ना जाना पड़ जाए । लालू यादव ने तो अपनी जिन्दगी जी ली , लेकिन अपने बच्चों की जिंदगी बर्बाद कर दी ।

उन्होंने कहा कि  जो सर से लेकर पांव तक घोटाला में डूबा हो उसे घोटाला पर बोलने का कोई हक नहीं है । यदि लालू यादव घोटाले को गिना जाए तो गिनती भी कम पड़ जाएगी । लालू यादव चारा घोटाला , अलकतरा घोटाला , मिटटी घोटाला, जमीन घोटाला , मॉल घोटाला , लोगो से जमीन लिखवाने से लेकर तमाम तरह की वितीय अनियमितताओं के जनक है लालू यादव ।

लालची परिवार

संजय ने लालू परिवार को लालची परिवार बताते हुए कहा किलालू यादव का पूरा परिवार ‘लालची परिवार’ है । किसी को नौकरी दी तो जमीन लिखवा लो । किसी को टिकट दिया तो सम्पति लिखवा लो । किसी को एमएलसी बनवाया तो वसीयत लिखवा लो । सत्ता के लालच में ही तेजस्वी यादव ने सीबीआई केस होने बावजूद इस्तीफा नहीं दिया । लालू परिवार दुनिया का सबसे बड़ा लालची परिवार है जो हर किसी से अपना लाभ ही निकलता है ।

लालू यादव को अपने रिश्तेदारों के बारे भी बताना चाहिए कि पूर्व मंत्री कांति सिंह से उनके परिवार का क्या रिश्ता है जिन्होंने अपनी जमीन लालू यादव के पुत्रों को लिख दी । रघुवंश झा से क्या रिश्ता है ? मो.शमीम से क्या रिश्ता है ? राकेश रंजन से क्या रिश्ता है ? अब्दुल बारी सिद्दकी से क्या रिश्ता है ? सभी ने अपनी जमीन या वसीयत लालू यादव के पुत्रों को लिखी है । इन सभी से लालू यादव और उनके परिवार का क्या रिश्ता है ?

About Editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*