नीतीश से गठबंधन के सवाल पर क्यों खुन्नस में आ जाते हैं कुशवाहा, आज खोला राज

नीतीश से गठबंधन के सवाल पर क्यों खुन्नस में आ जाते हैं कुशवाहा, आज खोला राज

आरएलएसपी के अध्यक्ष व केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा जदयू से गठबंधन के नाम पर खुन्नस में आ जाते हैं. लेकिन अब तक उन्होंने इस के पीछे के कारणों को सार्वजनिक रूप से कहने पर हिचकिचाते थे. लेकिन आज उन्होंने इस पर खुल कर अपना पक्ष रखा. उन्होंने कहा कि हमारा गठबंधन भाजपा से और लोजपा से है और हम इन दो पार्टियों के प्रति जवाबदेह हैं. उन्होंने इस गठबंधन में नीतीश कुमार के जदयू का नाम तक नहीं लिया.


 

NDA Seat Sharing फार्मुले में कुशवाहा ने लगाया पलीता इशारों में दी धमकी


कुशवाहा ने कहा कि हमें कहा जाता है कि गठबंधन के लिए त्याग करना होगा. हम त्याग करने के लिए तैयार हैं लेकिन हमारा सवाल है कि जब लाभ लेने की बारी आयी तो हमें नहीं दिया गया. उनका साफ इशारा बिहार में एनडीए सरकार गठन के समय सरकार में आरएलएसपी को शामिल नहीं किये जाने की तरफ था.

2017 में जब नीतीश कुमार एनडीए में आ कर सरकार बनाई तो इसमें बाद में भाजपा के अलावा लोजपा को शामिल किया गया लेकिन उपेंद्र कुशवाहा की पार्टी को शामिल नहीं किया गया.


शाह के आगे नहीं झुके कुशवाहा, सीट शेयरिंग पर नहीं बनी बात तो टली मुलाकात, RJD ने कहा आइए हमारे साथ


कुशवाहा ने कहा कि अब सरकार में शामिल होने का सवाल ही पैदा नहीं होता क्योंकि हम बासी भात खाने के आदी नहीं हैं. उन्होंने कहा कि पहले हमें सरकार में क्यों शामलि नहीं किया गाया.

दर असल उपेंद्र कुशवाहा की नाराजगी इसी बात को ले कर है कि जब बिहार में सरकार बनी तो गठबंधन धर्म का पालन करते हुए उनकी पार्टी को भी सरकार में हिस्सेदारी मिलनी चाहिए थी जो नहीं दी गयी. ऐसे में अब कुशवाहा नीतीश कुमार को साफ मैसेज देना चाहते हैं कि उनका गठबंधन के प्रति जवाबदेही भाजपा व लोजपा के प्रति है, न कि जदयू के प्रति.

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*